UPI Transaction Fee: यूपीआई ट्रांजैक्शन पर अब लग सकता है चार्ज, जानिए पूरी जानकारी

UPI Transaction Fee: आज के इस आर्टिकल में हम आपको UPI Transaction Fee के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले हैं. ट्रांजैक्शन के नाम से ही लोगों के मन में काफी ज्यादा हलचल मच जाती है. यूपीआई ट्रांजैक्शन फीस सबके लिए महंगी होगी और  किसके लिए upi transaction Charge In India बढ़ाई जाएगी? क्या 1 अप्रैल के बाद से Google pay, phone pay, paytm सभी के लिए महंगा हो गया. केवल चुनिंदा लोगों के लिए इन सभी प्रश्नों के जवाब आपको हमारे इस आर्टिकल में दिए जाएंगे.

आप लोगों को पहले जानकारी तो यह दे दिल की UPI Transaction Fee लेनदेन करने पर आपके बैंक बैलेंस पर किसी भी प्रकार का असर नहीं पड़ने वाला है. क्योंकि बैंक टू बैंक ट्रांजैक्शन की प्रक्रिया होने तक फ्री है. क्योंकि सरकार की ओर से केवल UPI Transaction Fee वॉलेट ट्रांजैक्शन को लेकर ली जाएगी. अगर आप UPI Transaction Charges Latest News In India के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पढ़ना होगा.

Aadhar Pan Card Link Last Date Extended

Aadhar Pan Card Link Today

Pan Card Correction Online

Pan Card and Aadhaar Card Link

Table of Contents

Join

UPI Transaction Fee

UPI Transaction Fee: आप सभी को बताती की UPI Transaction Fee लेन देन करने वालों पर किसी भी प्रकार का असर नहीं पड़ने वाला है. यदि आप बैंक से बैंक में ट्रांसफर करते हैं, तो आपको किसी भी प्रकार का एक्स्ट्रा UPI Transaction Fee देने की आवश्यकता नहीं होगी यह सारी सावधानी केवल वॉलेट ट्रांजैक्शन को लेकर बरतनी है. जैसा कि आप सभी जानते हैं, आज कल किसी भी व्यक्ति को खरीदारी करने के लिए ना तो केश की जरूरत होती है. ना ही किसी भी प्रकार के कार्ड की अगर आपके पास अपना मोबाइल फोन है.

तो आप बड़ी आसानी से बिना किसी  केश  के शॉपिंग कर सकते हैं. क्योंकि नोटबंदी के बाद से ही प्रत्येक भारतीय नागरिक को ऑनलाइन खरीदारी की तथा यूपीआई पेमेंट करने की इस प्रकार की लगी है  कि वह कैश पेमेंट करना एक प्रकार से भूल ही गए हैं. अगर आपके पास  मोबाइल फोन है और आप भी केश ले जाना पसंद नहीं करते हो तो आपको UPI Transaction Charge In India  या फिर Free UPI Transaction के माध्यम से खरीदारी करने में काफी आसानी है.

UPI Transaction Fee Overview

 

Article Name UPI Transaction Fee
Type Of Article Latest News
Year 2023
Rule For All India Citizen
Rule Apply Date 1 April 2023

 

UPI Transaction Charges In India

मोबाइल की इस दुनिया में आप घर बैठे या फिर दुनिया के किसी भी कोने में जाकर ऑनलाइन पेमेंट करके छोटे से लेकर बड़े तक हर चीज की खरीदारी यूपीआई ट्रांजैक्शन के माध्यम से कर सकते हैं लेकिन हाल ही में या खबर सामने आई है कि यूपीआई से ऑनलाइन पेमेंट को लेकर अब यूपीआई ट्रांजैक्शन चार्ज इन इंडिया लिया जाएगा यानी कि ₹2000 से अधिक के ट्रांजैक्शन कर आपको एक फोन 1% का अधिक चार्ज लगेगा.

अगर आप यूपीआई ट्रांजैक्शन नहीं जानते तो आपको बता दें, कि यूपीआई पेमेंट का मतलब होता है गूगलपे, फोनपे, पेटीएम और जितने भी डिजिटल माध्यम हो उसके द्वारा यदि आप ₹2000 से अधिक का पेमेंट करते हैं. तो आपको अपनी जेब को थोड़ा और ज्यादा ढीला करना होगा. क्योंकि अब आपको 1.1 प्रतिशत अधिक UPI Transaction Fee देनी होगी. लेकिन आपको बता दे, यदि आप बैंक अकाउंट से लिंक हुए पेमेंट करते हैं तो आपको इसमें किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं मिलेगा यानी कि UPI Transaction Fee नहीं ली जाए.

 

UPI Transaction Fee
UPI Transaction Fee

 

UPI Transaction Charges From 1 April 2023 

एनपीसीआई की ओर से अपने  सर्कुलर में  बदलाव करते हुए सुझाव दिया है, कि अब ₹2000 से अधिक के पेमेंट करने पर 1% का चार्ज लगने वाला है. यूपीआई के माध्यम से मर्चेंट ट्रांजैक्शन करने पर प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट यानी कि पीपीआई फीस देनी होगी. इस खबर के आने के बाद काफी लोगों को चिंता होने लगी है, कि क्या ट्रांजैक्शन महंगा होने के बाद चार्ज करना ऑनलाइन पेमेंट करना यूपीआई करना या यूपीआई से लेनदेन करना महंगा हो जाएगा.

तो आपको बता दे, एनपीसीआई ने स्पष्ट रूप से कह दिया है कि इस बदलाव का असर ग्राहकों पर नहीं पड़ने वाला है. ग्राहकों को कोई भी अतिरिक्त चार्ज इसके संबंध में नहीं देना होगा. यदि आप बैंक खाते से जुड़े यूपीआई लेनदेन कर रहे हैं. तो इसके लिए किसी भी प्रकार का शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है. यह आपके लिए पहले की तरह ही बिल्कुल मुफ्त में जारी रहेगा. केवल आपको पीपीआई बोले पर फोन पर गूगल पर करने पर अतिरिक्त चार्ज लग सकता है.

NPCI UPI Transaction Charges

अगर आप सोच रहे होंगे, कि इस नए नियम का असर आम नागरिकों पर किस हद तक पड़ सकता है. तो आपको बता दें, कि इंटरचेंज चार्ज लगने पर आम व्यक्ति कैसे पर कोई भी असर नहीं होने वाला है. इंटरचेंज चार्ज का भुगतान मर्चेंट की ओर से  Volent या फिर जारीकर्ता को ही देना पड़ता कितना पड़ सकता है. अगर आप ₹2000 से कब का भुगतान कर रहे हैं तो आपको इसके बारे में सोचने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि इस सर्कुलर के मुताबिक साफ साफ स्पष्ट कह दिया गया है.

कि प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट जैसे कि पेटीएम फोन पर जैसे वॉलेट में अपने बैंक से पैसे डालते हैं या फिर पेमेंट फोन पर जैसे कंपनी को रहे मीटर बैंक को ट्रांसफर करना पड़ता है. तो उसके लिए 15 बेसिस प्वाइंट का पेमेंट आपको तभी करना होगा अगर आपको अभी भी संदेह है तो आपको इस बात का जवाब एक लाइन के अंतर्गत दे दे कि UPI Transaction Fee को लेकर आपको किसी भी प्रकार का अतिरिक्त चार्ज देने की आवश्यकता नहीं होगी. इस बात का आप पर किसी भी प्रकार का असर नहीं पड़ने वाला है 

FAQs Related to UPI Transaction Fee

यूपीआई ट्रांजैक्शन फीस न्यूज़ क्या है?

यूपीआई ट्रांजैक्शन फीस न्यूज़ के माध्यम से बताया गया है कि यूपीआई के माध्यम से 2000 ट्रांजैक्शन पर 1.1% अतिरिक्त चार्ज लगेगा. 

UPI Transaction Fee नियम कब से लागू है? यूपीआई ट्रांजैक्शन का यह नियम 1 अप्रैल से लागू होगा.

Join Whatsapp GroupClick Here
PH Home Pagephysicshindi.com