रोजगार की जद्दोजहद : चौकीदार, ड्राइवर और माली के 15 पदों के लिए 11 हजार लोग कतार में

नमस्कार दोस्तों भारत में बेरोजगारी एक सबसे बड़ी प्रॉब्लम है खास कर covid के दोरान यह प्रॉब्लम अपने चरम पर है भारत में आजकल लगभग सभी युवा पढ़े लिखे है परन्तु अधिकांस बेरोजगार है समय समय पर भारत में सरकार द्वारा कई कदम उठाये जाती है परन्तु सभी नाकाम रहते है दोस्तों आपको बता दे की बेरोजगारी किसी भी देश के विकास में प्रमुख बाधाओं में से एक है। भारत में बेरोजगारी एक गंभीर मुद्दा है। इस समस्या को खत्म करने के लिए भारत सरकार को प्रभावी कदम उठाने की ज़रूरत है।एक्सपर्ट बताते है भारत में 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी अब है ऐसा ही कुछ मामला सामने आया है जिसके बारे में हम आपको बताने वाले है.

unemployment in india
unemployment in india

क्या है मामला जाने विस्तार से

ग्वालियर जिला न्यायालय के बाहर शनिवारको रोजगार के लिए लगी युवाओं की कतार। ड्राइवर, चौकीदार, माली, स्वीपर के सिर्फ 15 पदों के लिए 11 हजार से जयादा युवा इंटरव्यू देने पहुंचे। स्नातक, स्नातकोत्तर पास विद्यार्थियों के आवेदनइनपदोंके लिए ज्यादा आए, लेकिन बीबीए जैसे प्रोफेशनल कोर्स की डिग्री लेने के बाद भी चतुर्थ श्रेणी की नौकरी लेने के लिए भीलोग कतार में खड़े हुएथे। सरकारी नौकरी की चाहत में सुबह 7 से लेकर शाम 4 बजे तक कतार में खड़े रहे। भीड़ इतनी अधिक थी कि पुलिस को व्यवस्था संभालनी पड़ी। युवाओं ने बोर्डकेसामने अग्रेिजी में अपनापरिचय दिया। इसकोलेकरजज भी चौंक गए। जिला एवं सत्र न्यायालय ग्वालियर में ड्राइवर, चौकीदार, माली, स्वीपर के 15 पदोंपर भर्ती के लिएनवंबर 2021 में विज्ञापन जारी किया था।

Join

साक्षात्कार के लिए बनाए गए 17 बोर्ड

कोर्ट ने आवेदनों की संख्या को देख हुए शनिवार और रविवार का दिन साक्षात्कार के लिए निर्धारित किया। इनके साक्षात्कार के लिए 17 बोर्ड बनाए गए हैं, जिन्होंने दस्तावेजों की जांच कर साक्षात्कार किया। सुबह सात बजे से जिला कोर्ट के बाहर साक्षात्कार के लिए युवाओं की भीड़ लग गई थी।कोरोना के चलते दो साल बाद हो रही भर्ती कोविड-19 संक्रमण के चलते 2 साल से भी नहीं हुई है। 2 साल बाद यह भर्ती निकली है, लेकिन इस बार प्रदेश के हर जिले में भर्ती निकाली गई। इस वजह से आवेदनों की संख्या 11 हजार रह गई। इससे पहले जिला न्यायालय में जो भर्तियां हुई हैं, उनमें आवेदकों की संख्या 60 हजार से अधिक पहुंच गई थी।

इसी प्रकार की ख़बरों के लिए विजिट करें physicshindi.com.

व्हाट्सएप पर सभी जानकारियाँ पाने के लिए यहाँ क्लिक करके आप हमारा Whatsapp ग्रुप जॉइन कर सकते है।