भोपाल

मध्य प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर का कहर : सभी स्कूल कॉलेज होंगे प्रभावित, छात्रों का भविष्य खतरे में –

मुख्यमंत्री ने कहा मिलकर लड़ेंगे, छिंदवाड़ा में भी मिला ओमिक्रॉन का मरीज

भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नए साल के पहले दिन संबोधन में कहा कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर आ गई है। प्रदेशवासी सतर्क रहे। इसका मुकाबला जनसहयोग से करना है। आवश्यक व्यवस्थाएं बना ली गई है। कोविंड के संक्रमण को रोकने के अनुरूप व्यवहार करना है। आत्मनिर्भर भारत बनाना है। शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करना है। रोजगार के अवसरों का सृजन करना है।

Join

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने इंदौर के बाद छिंदवाड़ा में भी एंट्री कर ली है। छिंदवाड़ में 26 साल की युक्ती ओमिक्रीन पॉजिटिव आई है। वह नीदरलैंड लौटी थी। अतुल सिंह के मुताबिक युवती कारेटाइन थी युवती को जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया है। परिवार के लोगों को भी कारिटाइन किया गया है। युवती की हालत सामान्य है। इससे पहले भी इंदौर में भी ओमिकान के 9 केस मिल चुके है।

इंदौर बन चुका है हॉटस्पॉट

प्रदेश में कोरोना की रिएंट्री के साथ इंदौर हॉटस्पॉट बन चुका है। शुक्रबर को 62 नए मरीज सामने आए शहर में कुल मरीजों की संख्या अब 153791 हो गई है, जबकि ओमिक्रोन वेरिएंट की अब तक मरीजों में पुष्टि हुई है। जिले में एक्टिव मरीज अब हो गए हैं। अब तक 152113 मरीज स्वस्थ लेकर घर लौट चुके है। रिकवरी रेट 98.9 प्रतिशत है। जून के बाद पहली बार प्रदेश में पहले 400 से ज्यादा केस निकले है। भोपाल में 27 केस मिले हैं। रतलाम में भी दो कोरोना संक्रमित मिले हैं।

third wave of omicron in madhy pradesh
third wave of omicron in madhy pradesh

कहां कितने मरीज

21 वर्षीय युवक और 52 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। यहाँ एक्टिव मरीज 5 से ज्यादा हो गए हैं। उज्जैन में 6 नए केस आए हैं। मुनि नगर में रहने वाले 32 और 29 साल के पति-पत्नी जयपुर और दूसरे शहरों से लौटने के बाद संक्रमित पाए गए हैं। एक 77 साल का बुजुर्ग है। कुछ दिन पहले दुबई से लौटी मरीज के पिता है। महनवा नगर की दो युबतियां और दो भाई नौरोजी मार्ग पर रहने वाला युवक संक्रमित मिला है। सभी सामान्य है। किसी की भी स्थिति गंभार नहीं है। छिंदारा के परासिया में नागपुर से लौटे 69 साल के बुजुर्ग की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनके संपर्क में आए परिवार के 4 सदस्य और काम करने वाली महिला को कारेंटाइन कर दिया गया है। बुजुर्ग को थोड़ी सी जुकाम था। स्थिति सामान्य है। दोने वैक्सीन लग चुके है। ग्वालियर में 3 केस आए हैं।

अगर जल्द इस पर काबू नही पाया गया तो छात्रों का भविष्य एक बार फिर संकट में

ओमिक्रोन वायरस के बढ़ते प्रकोप को अगर जल्द से जल्द न रोका गया तो इसका सीधा सीधा असर आगे आने वाले सभी सभी प्रकार की परीक्षाओं पर पड़ेगा। सबसे बड़ी बात यह है कि फरवरी के महीने में कक्षा 10वीं 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन कराना है, जिसके लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल के द्वारा टाइम टेबल घोषित कर दिया गया है।

अब प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर बढ़ती हुई दिखाई दे रही है। इससे पहले लगातार 2 सालों में कोरोना की पहली लहर तथा दूसरी लहर आने के कारण बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करना पड़ा था। तो क्या अगर इस साल कोरोना की तीसरी लहर आती है तो फिर से वह परीक्षा रद्द हो सकती है। यह सबसे बड़ा सवाल है प्रदेश सरकार को जल्द से जल्द कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी करना चाहिए तथा उसके केस ज्यादा न बढ़ सकें, इसके लिए नियमित कदम उठाने चाहिए। तथा हम आशा करते हैं कि बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन सफलतापूर्वक हो जाना चाहिए।

10th 12th Pass Latest Jobs – Apply Now

| एमपी राज्य वन सेवा भर्ती – अंतिम तिथि, अप्लाइ

| For Vaccination Certificate – How to get Vaccination Certificate

| स्कूल कॉलेज बंद – आदेश , ओमीक्रॉन का खतरा

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर आपको क्या लगता है, कि बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन हो पाएगा या नहीं – आप हमें कमेंट करके अवश्य बताएं –

JOIN WHATSAPP GROUPCLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUPCLICK HERE
PHYSICSHINDI HOMECLICK HERE

You may also like

Comments are closed.