Tajmahal Mystery Update: ताजमहल के बंद 22 कमरों को खोलने के लिए दायर याचिका, अब खुलेगा रहस्य

Tajmahal Mystery Update – ताजमहल के बंद 22 कमरों को खोलने के लिए दायर याचिका, अब खुलेगा रहस्य : दुनिया भर में सात अजूबे हैं जिसमे ताजमहल भी एक अजूबा है। ताजमहल पूरी दुनिया के लिए प्रसिद्ध है। ताज महल अपनी अद्भुत सुदंरता के लिए दुनिया भर मे पहचाना जाता  है। शाहजहां-मुमताज की अमर प्रेम कहानी के लिए भी यह ताजमहल पूरी दुनिया में अपना अलग पहचान रखता है। ताजमहल पूरी दुनिया में जितना अपनी सुदंरता के लिए फेमस है उतना ही वह अपने पीछे छुपाए हुए रहस्यों को समेटे  है और प्रसिद्ध है।

Join

दोस्तों क्या आप जानते है  कि ताजमहल के तैखाने में पूरे 22 कमरे हैं। जबकि सदियों से ताजमहल के यह 22 तहख़ानो पर ताले पड़े है । आज तक कोई भी यह पता नहीं लगा पाया  है कि यह तैखाने मे आखिर क्या रहस्य हैं, क्यो बंद पड़े और इन तहखानों के पीछे की सच्चाई आखिर क्या  है। 22 कमरो को रहस्य दरअसल  किसी को भी मालूम नहीं हे।

Tajmahal Mystery Update

हाईकोर्ट में दाखिल हुई याचिका ताजमहल के बंद 22 कमरों से खुलेगा रहस्य – हाईकोर्ट में याचिका दर्ज करके  भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण से ताजमहल के 22 बंद दरवाजों के रहस्यो को जानने के लिए जांच करने का निर्देश के लिए जोरों से आवाज उठाई गई  है जिससे यह पता किया जा सके कि वहां कही हिंदू देवताओं की मूर्तियों तो नहीं हैं।दायर याचिका में कहा गया है कि कुछ हिन्दुओ का वर्ग और जानकार संत इस विशाल स्मारक को कई इतिहासकारों व तथ्यों के आधार पर पुराने शिव मंदिर के रूप में होने दावा कर रहे हैं।

लेकिन, कई इतिहासकार इसे मुगल सम्राट शाहजहां द्वारा बनाया गया ताजमहल के रूप में मानते हैं। कुछ लोगों का यह भी मानना ​​है कि तेजो महालय उर्फ ​​ताजमहल एक विशाल ज्योतिर्लिंग यानि महान  शिव मंदिरों में से एक दिखाई देता है। दायर याचिका में कहा गया है कि यह विनम्रता पूर्वक प्रस्तुत किया जाता है कि चार मंजिल विशाल इमारत के ऊपरी और निचले हिस्से (लगभग 22 कमरे) में स्थित कुछ कमरे परमानेंट रूप से बंद हैं। पीएन ओक जैसे इतिहासकार और करोड़ों हिंदू उपासकों का दृढ़ विश्वास है कि उन लॉक रूम में भगवान शिव का मंदिर मौजूद है।

Tajmahal Mystery Update
Tajmahal Mystery Update

 

क्या आप ताजमहल में शिव पूजा करने पर अड़े थे जगतगुरु परमहंसाचार्य

दोस्तों क्या आप जानते है लंबे सय से ताजमहल को  हिन्दू  संगठन तेजोमहल होने की बात कर रहे थे। हिंदुवादी संगठन हिन्दुओ के पवित्र सावन के महीने मे ताज महल मे शिव आरती करने का प्रयास करते आ रहे है लेकिन उनकी कोसिस असफल रही पिछले दिनों जगतगुरु परमहंसाचार्य ने भी ताजमहल को तेजोमहल होने का दावा किया और ताजमहल के अंदर  शिव पूजा करने की बात पर अड़े रहे लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ । उनके प्रवेश को लेकर भी काफी विवाद हुआ और पुलिस के द्वारा उन्हें ताजमहल में अंदर जाने से  से रोक दिया था। उन्हें गेस्ट हाउस मे नजर बंद कर रखा गया ताजमहल में बंद 22 कमरों को खुलवाने के लिए हाई कोट मे याचिका दायर करा दी गई अब इंतजार करना हाई आगे क्या होता है।

ASI से जांच कराने के लिए याचिका दायर, जानें क्‍या है पूरा मामला?

ताजमहल परिसर के अंदर 22 कमरों के दरवाजे खोलने के लिए एक याचिका दायर कर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई/ASI) को का निर्देश देने की मांग की गई है. इसका कारण यह बताया जा रहा  है क‍ि ‘ताजमहल के इतिहास‘ के कारण विवाद न बड़े और इस मामले को आसानी से सुलझाया जा सके।

हाईकोर्ट इलाहाबाद के लखनऊ बेंच में एक याचिका दायर की गई है जिसमे  ताजमहल में बंद 22 कमरों को खुलवाने के लिए कोट केस किया गया और ऐएसआई से इनकी जांच की मांग की गई है . याचिका में दावा ये भी किया जा रहा है  कि ताज महल में हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां विराजमान हैं. जानकारी के अनुसार , अयोध्या में बीजेपी के मीडिया प्रभारी की और से हाईकोट मे याचिका दायर की गई है

ताजमहल से जुड़े इस रहस्य के बारे में क्या जानते हैं आप

  • दुनिया के 8 अजुबों में एक ताजमहल की खूबसूरती की लोग मिसाल देते हैं
  • यह एक ऐसा अजूबा है जो अपनी खूबसूरती के साथ प्यार के एहसास के लिए भी जाना जाता है,
  • इसे देखने दुनिया भर के लोग आते हैं
  • शाहजहां के 14वें संतान को जन्म देते समय उनका निधन हो गया था और उनकी याद में ही शाहजहां ने ताजमहल बनवाया
  • वैसे तो मुमताज का निधन बुरहानपुर में हुआ था लेकिन उनके सव को ताजमहल मे दफनाया गया

Note – यह जानकारी इंटरनेट माध्यम से कलेक्ट की गई है, हम इस जानकारी की पुष्टि नहीं करते है, धन्यवाद

TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PH HOME PAGE CLICK HERE