Surya Grahan 2022 Time: सूर्यग्रहण के दिन भूल कर भी ना करें या काम, जानिए राजस्थान में कहां दिखाई देगा ग्रहण

आज के इस आर्टिकल में हम आपको Surya Grahan 2022 Time के बारे में बात करने वाले हैं. जैसा की आप सभी को पता है कि दीपावली के दूसरे दिन ही सूर्य ग्रहण रहने वाला है. इसलिए आप को सूर्य ग्रहण के दौरान या इस दिन कौन-कौन से काम नहीं करने चाहिए और कौन से काम सूतक लगने से पहले एवं अन्य सभी शुभ कामों को किस प्रकार किया जाना चाहिए इस बारे में हम आपको आज पूरी जानकारी के साथ और विस्तार से बताने वाले हैं. अगर आप भी इंटरनेट पर  Surya Grahan Kab Hai? खोज रहे हैं तो आज हम आपको बताएंगे कि आखिरकार सूर्य ग्रहण कब लगने वाला है. क्योंकि बहुत सारे लोग Solar eclipse October 2022 और Solar eclipse 2022 in india date and time city wise के बारे में जानना चाहते हैं. अगर आप भी सूर्य ग्रहण के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक ध्यान पूर्वक पढ़ते रहें ताकि कोई भी महत्वपूर्ण जानकारी आप से ना छूटे.

Surya Grahan 2022 Time

आज यानी 25 अक्टूबर 2022 को इस वर्ष का दूसरा और अंतिम सूर्य ग्रहण होने वाला है. आज के इस सूर्यग्रहण को लेकर गांव से लेकर शहरों तक के लोगों में काफी उत्सुकता देखी जा सकती है. आपको बताना चाहेंगे कि यह सूर्य ग्रहण भारत के कई इलाकों से देखा जा सकेगा. वही ग्रहण का सूतक काल भी प्रभावी बताया जा रहा है. आज लगने वाले Surya Grahan 2022 को लेकर कई सारे ज्योतिषियों ने संभावनाएं जताई है कि यह कई सारी राशियों के लिए शुभ हो सकता है वहीं कुछ राशियों के लिए अशुभ भी साबित हो सकता है. इसमें आपको कौन कौन से कार्यों को करना चाहिए कौन-कौन से कार्य को नहीं करना चाहिए और कौन से कार्यों को सूर्य ग्रहण से पूर्व ही कर लेना चाहिए. इन सभी चीजों के बारे में जानने के लिए इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ते रहिए. इसके साथ ही हम आपको यहां पर बताएंगे कि आखिरकार Surya Grahan 2022 Time क्या रहने वाला है.

इन्हें भी पढ़ें-

Solar eclipse October 2022

ऐसे सभी लोग जो Surya Grahan 2022 Time के बारे में जानना चाहते हैं और बार-बार पूछ रहे हैं कि आखिर Surya Grahan Kab Hai? तो ऐसे सभी लोगों को बताना चाहेंगे कि आज मंगलवार 25 अक्टूबर 2022 को सूर्य ग्रहण 4 बजकर 29 मिनट से लेकर 5 बजकर 42 मिनट तक लगेगा. वही बताना चाहेंगे कि सूर्य ग्रहण को भारत के कई इलाकों से देखा जा सकेगा. इस खगोलीय घटना को लेकर ज्योतिषियों की अपनी मान्यताएं रहती है. वही सूर्य ग्रहण या चंद्र ग्रहण को धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अशुभ ही माना जाता है. वही वैज्ञानिक दृष्टिकोण से इस खगोलीय घटना को एक विशेष खगोलीय घटना के रूप में देखा जाता है. वही बता दी कि सूर्य ग्रहण के दौरान सूतक काल पर ज्योतिषियों और पंडितों की खास नजर होती है. विभिन्न पंडितों और ज्योतिषियों द्वारा कहा जाता है कि गर्भवती महिलाओं बच्चे और बड़ों को खास एहतियात बरतने की आवश्यकता है. यानी कि आज के दिन इन लोगों को कम से कम घर से बाहर निकलना चाहिए. वही आपको बता दें कि लक्ष्मी जी का पाटा भी सुबह 4:15 सूतक लगने से पहले पहले उठा लेना चाहिए. 

Surya Grahan 2022 Time
Surya Grahan 2022 Time`

Solar eclipse 2022 in india date and time city wise

27 साल में दीपावली के अगले दिन सूर्य ग्रहण रहने के कारण अन्नकूट गोवर्धन पूजा सूतक लगने से बुधवार को मनाई जाएगी. राजस्थान के जयपुर में सूर्य ग्रहण शाम 4.32 बजे से 5.50 बजे तक रहेगा. वही इसका सूतक ग्रहण से 12 घंटे पूर्व यानी मंगलवार सुबह 4:15 पर ही शुरू हो जाएगा. 52 प्रतिशत सूर्यग्रहण होने से शाम 5.33 बजे सूर्य का आधा बिंब 50 प्रतिशत ही चमकीला दिखाई देगा. भारत में सबसे पहले सूर्य ग्रहण जम्मूकश्मीर में शाम 4.15 बजे दिखाई देगा. सूर्य ग्रहण को नंगी आंखों से नहीं देखना चाहिए, सूर्य ग्रहण देखने के लिए एक्लिप्स ग्लास का प्रयोग करें. देश के अधिकांश हिस्सों में सूर्यग्रहण के साथ ही सूर्यास्त हो जाएगा. यूरोप, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, अफ्रीका के कुछ देशों उत्तरी हिन्द महासागर, पश्चिमी एशिया आदि में अधिक समय तक रहेगा. प्रदेश में श्रीगंगानगर में सबसे अधिक 58 फीसदी और बासंवाड़ा में सबसे कम 45 फीसदी सहित कोटा में 48 फीसदी ग्रहण दिखाई देगा.

देश में यहां दिखेगा सूर्य ग्रहण- 

Join

दिल्ली, राजस्थान,पश्चिमी मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब,उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड. जम्मू, श्रीनगर, लेह और लद्दाख 

भारत के इन हिस्सों में थोड़े समय के लिए दिखेगा सूर्य ग्रहण-

दक्षिण भारत के हिस्से जैसे तमिलनाडु, कर्नाटक,मुंबई, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, ओडिशा, बिहार, छत्तीसगढ़, झारखंड और बंगाल

भारत के इन हिस्सों में नहीं दिखाई देगा सूर्य ग्रहण

देश के पूर्वी भागों में असम,अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और नागालैंड 

इस राशि में लगेगा सूर्य ग्रहण

ज्योतिष गणना के अनुसार दिवाली के बाद यानी 25 अक्तूबर को लगने वाला सूर्यग्रहण तुला राशि में लगेगा.

सूतक के दौरान आपको कौन से काम नहीं करने चाहिए?

  1. सूतक के दौरान किसी भी प्रकार की पूजा नहीं करनी चाहिए इस समय नाही भगवान की मूर्ति को स्पर्श करना चाहिए.
  2. इस दौरान भोजन भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इस समय भोजन अशुद्ध हो जाता है. ऐसे में यदि आप भोजन करना चाहते हैं तो आप इस में तुलसी का पत्ता डाल सकते हैं.
  3. सूतक के समय सोना, नाख़ून काटना, भोजन बनाना, तेल लगाना, बाल काटना अथवा कटवाना आदि काम नहीं करने चाहिए.
  4. गर्भवती महिलाओं बच्चों और बड़ों को इस समय अधिक समय के लिए घर से बाहर नहीं जाना चाहिए.
PH Home Page Click Here