बोर्ड परीक्षा 2022 पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज।

CBSE, CISCE Board Exams 2022:- छात्र 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं का परंपरागत ऑफलाइन मोड में आयोजित करने का विरोध कर रहे हैं। छात्रों और पैरेट्स का कहना है कि महामारी के चलते स्टूडेंट्स की पढ़ाई पूरी नही हुई। 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाएं ऑफलाइन होगी या नहीं? इसका फैसला आज सुप्रीम कोर्ट में हो सकता है। सुप्रीम कोर्ट आज (23 फरवरी 2022) दोपहर 2 बजे इस साल सीबीएसई, सीआइसीएसई और कई अन्य बोर्डों द्वारा आयोजित की जाने वाली कक्षा 10 और 12 के लिए ऑफलाइन बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई करेगा। ऑफलाइन एग्जाम के खिलाफ दायर की गई याचिका पर न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए. एम. खानविल्कर की अगुवाई वाली खण्डपीठ सुनवाई करेगी। यह याचिका देश भर के 15 राज्यों के छात्रों द्वारा दायर की गई है।

दरअसल, कोरोना वायरस के चलते सीबीएसई, सीआइसीएसई समेत कई स्टेट बोर्ड 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा  50-50 प्रतिशत सिलेबस के आधार पर दो टर्म में आयोजित कर रहे हैं। टर्म 1 की परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में आयोजित की गई थी। वहीं कोविड – 19 के घटते संक्रमण को देखते हुए टर्म 2 की परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित करने का फैसला लिया है।  सीबीएसई टर्म 2 परीक्षाएं 26 अप्रैल से शुरू होंगी। दूसरी ओर छात्र 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं का परंपरागत ऑफलाइन मोड में आयोजित करने का विरोध कर रहे हैं। छात्रों और पैरेट्स का कहना है कि महामारी के चलते स्टूडेंट्स की पढ़ाई ऑनलाइन मोड में हुई है, तो परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में क्यों नहीं हो सकती? कुछ छात्रों का कहना है कि ऑनलाइन क्लालेस में उनकी पढ़ाई पूरी नहीं हुई, इसलिए ईवैल्यूएशन इंटर्नल एसेसमेंट के आधार पर टर्म 2 के मार्क्स दिए जाने चाहिए। याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि कोविड -19 की स्थिति में सुधार हुआ है। लेकिन क्लासेस पूरी नहीं हुई हैं। न्यायमूर्ति ए एम खानविल्कर, न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी और न्यायमूर्ति सी टी रविकुमार की खंडपीठ ने मौखिक रूप से कहा, ‘पाठ्यक्रम पूरा किए बिना परीक्षा कैसे कराई जा सकती है।

 गणित का खौफ 1465 छात्र परीक्षा देने नहीं पहुंचे:-

माध्यमिक शिक्षा मंडल की हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा में गणित विषय का पेपर था, लेकिन छात्र-छात्राओं में गणित को लेकर इतना खौफ था कि 1465 छात्र परीक्षा देने के लिए नहीं पहुंचे। परीक्षा में 28998 परीक्षार्थियों को शामिल होना था मगर 27535 ही पहुंचे। जिले के किसी सेंटर कोई नकल केस नहीं बना। परीक्षा में अभी तक 4831 छात्र अनुपस्थित रह चुके हैं और चार नकल केस बन चुके हैं। तक 10वीं में हिंदी, गणित और 12वीं में अंग्रेजी, हिंदी, अर्थशास्त्र और भौतिकशास्त्र विषय के पेपर हो चुके हैं। 10वीं की परीक्षा में अगला पेपर 24 को उर्दू विषय का है। 12वीं मे 24 फरवरी को बायोटेक्नोलॉजी और भारतीय संगीत विषय के पेपर है। सेंटरों पर लगे हैं कैमरे, उड़नदस्ते भी सक्रिय हैं परीक्षाओं में नकल नहीं हो, इसके लिए शिक्षा विभाग ने जिले में बनाए 95 केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं साथ ही उड़नदस्ते भी सेंटरों का औचक निरीक्षण के लिए पहुंच रहे हैं। सेंटरों पर तैनात वीक्षक भी छात्रों पर पैनी नजर बनाए हुए हैं। चार नकल वीक्षकों ने ही बनाए हैं।

Supreme Court decision Exam 2022
                                         Supreme Court decision Exam 2022

पद्मा विद्यालय में 9:45 बजे तक रोल नंबर लिखे गए

पदमा कन्या विद्यालय के कक्ष क्रमांक ए-6 में सुबह 9:40 बजे तक रोल नंबर लिखे जा रहे थे, जबकि 9:45 बजे छात्र कमरे में आ गए थे मगर सीटों पर रोल नंबर नहीं लिखे होने के कारण छात्र रोल नंबर लिखे जाने का इंतजार करते रहे। वहीं दूसरी विद्यालय में नेहा जाटव नवविवाहित के वेशभूषा में पेपर देने के लिए पहुंची। छात्रा की शादी 20 फरवरी को हुई थी।