1,2,5 और 10 रूपए के सिक्के क्या बंद हो गए हैं, सिक्कों को लेकर अब तक की सबसे बड़ी खबर

shopkeepers are avoiding taking coins – इस पोस्ट के माध्यम से हम देखने वाले हैं, क्या सही में बंद हो गए हैं 1,2,5 और 10 रूपए के या फिर बेकार में लोगों को परेशान किया जा रहा है, कुछ दुकानदार इन सिक्कों को लेने से मना कर देते हैं, तो ग्राहक सोचते हैं कि अब यह सिक्के बंद हो गए हैं, अब हम क्या करें, हम आपको इस पोस्ट में बताने वाले हैं कि यह सिक्के बंद हुए हैं या नहीं। तो आप से निवेदन है कि इस पोस्ट को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें। यह सब जानकारी हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से विस्तार से देने वाले हैं।

shopkeepers are avoiding taking coins

एक दुकानदार ने बताया कि उनके पास सिक्के बहुत आ रहे थे। लेकिन वह जब सामान बाहर से मंगाते हैं, तो उन्हें अपने द्वारा बड़े नोट देने पड़ते हैं जिससे सामान खरीदते हैं, वह व्यापारी तो सिक्के लेता ही नहीं है। जब दुकानदार बैंक में जमा करने जाता वह सिक्के तो बैंक की तरफ से भी आनाकानी देखने को मिलती है, ऐसे में दुकानदार क्या करें, उसके पास तो सिक्कों के ढेर लग जाते हैं, जिससे उसकी कमाई धरी की धरी रह जाती थी। जिससे वह अपना व्यवसाय नहीं बढ़ा पा रहे थे इसलिए दुकानदार को 1,2 रुपए के सिक्के लेने में परेशानी आ रही है। दुकानदारों की भी एक समस्या है, कि उनके पास बहुत ज्यादा सिक्के इकट्ठा हो रहे हैं, और बैंक में जमा करने में भी थोड़ी परेशानी आ रही है।

people are getting this problem

1,2 रूपए के सिक्कों दुकानदारों के द्वारा न लिए जाने से लोगों को बड़े नोट देने पड़ रहे हैं और ज्यादा सामग्री भी लेनी पड़ रही है, ज्यादा सामग्री लेने की वजह से एक तरफ उनका बजट बिगड़ रहा है वही सामग्री भी खराब हो जाती है। लोगों को 1 से 5 रूपए तक की सामग्री के लिए 5 या 10 का सिक्का देना पड़ रहा है, जबकि वास्तविक खर्च भी उनकी नहीं है, जिनके पास 1,2 रुपए के सिक्के रखे हुए हैं, दुकानदारों के द्वारा न लिए जाने से वह रकम व्यर्थ साबित हो रही है। इससे गरीबों का बहुत नुकसान हो रहा है, वह इतने पैसे इकट्ठा नहीं कर पा रहे हैं, कि वह अपने दो टाइम का खाने का इंतजाम कर सकें। इसलिए आप 1,2 का सिक्का लेने से इंकार ना करें इससे बहुत सारे लोगों को नुकसान हो रहा है, आखिरकार गरीब परिवार इतने पैसे लाने में असमर्थ हैं।

Coin 1,2,5
Country India
State All State
year 2022
RBI Official Website RBI
shopkeepers are avoiding taking coins
shopkeepers are avoiding taking coins

 

Only Reserve Bank of India has the authority to issue orders.

सिक्के या नोट चलेंगे या नहीं यह सब का अधिकार केवल भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पास है, इसके लिए आरबीआई द्वारा आदेश जारी किए जाते हैं, अगर सिक्के और नोट नहीं चलने पर ग्राहकों को उन सिक्कों या नोटों को लौटाने का समय दिया जाता है, पिछले साल 2011 में भारतीय रिजर्व बैंक ने 1 पैसे से 25 पैसे तक के सिक्के चलन से बाहर निकाले थे, इसके बीच सभी को सिक्के लौटाने का भी समय दिया गया था, इसके लिए भी भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सूचना जारी किया गया था। तब से हंसी के चलते नहीं है। इनका क्या कहना है चेतन कुमार, प्रबंधक, एसबीआई शाखा, विजयपुर:-आरबीआई के निर्देशानुसार बैंक और व्यापारिक सिक्के लेने से मना नहीं कर सकते है।

action will be taken against them

जो भी भारतीय मुद्रा सरकार द्वारा चल रही है, उसे लेने से कोई इनकार नहीं कर सकता अगर कोई इसे लेने से इनकार करता है, तो लोगों को शिकायत करनी चाहिए तत्काल उसके खिलाफ कार्यवाही होगी और पुलिस द्वारा दुकानों का निरीक्षण करेंगे, अगर कोई भी दुकान सिक्का लेने से मना करता है, तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जा सकती है। इसलिए आपसे भी दुकानदार और व्यापारियों से निवेदन है कि जो सिक्के चलन में है उसे लेने से इंकार ना करें, नहीं तो इसकी भरपाई आपको करनी पड़ेगी, इसलिए आप पहले से ही सतर्क हो जाए।

Join

How can I file a complaint against them?

यदि कोई सिक्का लेने से मना कर रहा है तो उसके खिलाफ शिकायत संबंधित बैंक या पुलिस से कर सकते हैं, फिलहाल चलन वाले सिक्के ना लेने से संबंधित दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है, उसके खिलाफ मामला दर्ज करवा सकते हैं पुलिस में और अपने संबंधित बैंक में जाकर भी बता सकते हैं। जो व्यक्ति यह सिक्के लेने से मना कर रहा है उसके खिलाफ भारतीय मुद्रा अधिनियम और आईपीसी के तहत कार्रवाई होगी। ऐसे मामलों को रिजर्व बैंक में भी दर्ज किया जा सकता है। सिक्काकरण अधिनियम 2011 की धारा 6 के तहत रिजर्व बैंक द्वारा जारी सिक्का भुगतान के लिए मान्य मुद्रा हैं। यह भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम 1934 की धारा 26 की उप-धारा (2) में निहित प्रावधानों के अनुसार केंद्र सरकार के द्वारा प्रत्याभूत हैं।रिजर्व बैंक के निर्देश है कि जो भी 1,2 का सिक्का नहीं लेगा उसके खिलाफ भारतीय करेंसी का अपमान करने का मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जाएगा, इसलिए आप सतर्क हो जाएं।

JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE