Sahara India Latest news today 2022: सहारा इण्डिया के निवेशकों की बल्ले-बल्ले, इंतजार की घड़ी हुई खत्म

Sahara India Latest news today 2022

आज के इस आर्टिकल में हम आपको Sahara India Latest news today 2022 के बारे में बताने वाले हैं. अगर आपका पैसा भी सहारा इंडिया कंपनी में फंसा हुआ है तो आपके लिए बहुत ही शानदार खुशखबरी आई है. आपको बताना चाहेंगे कि सहारा इंडिया कंपनी 138 करोड रुपए Sahara India Refund रिफंड कर चुकी है. अगर आपको भी अभी तक भी सहारा इंडिया कंपनी से पैसे नहीं मिले हैं तो हम आपको यहां पर जानकारी देने वाले हैं कि कैसे आप अपने पैसे सहारा इंडिया कंपनी से निकाल सकते हैं. या फिर कैसे Sahara India refund apply Online कैसे कर सकते हैं. पूरी जानकारी विस्तार से हम आपको यहां पर देने वाले हैं. तो आपने भी इसमें पैसा निवेश किया था और आप भी पैसे रिफंड होने के इंतजार में बैठे हुए हैं तो हम आपको यहां पर बताएंगे कि आप कैसे अपने पैसे इस कंपनी से निकाल सकते हैं. अगर आप भी Sahara India money refund latest News जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंततः ध्यान पूर्वक पढ़ते रहिए ताकि कोई भी महत्वपूर्ण जानकारी आप से ना छूटे.

Sahara India Latest news today 2022

सहारा इंडिया कंपनी में देश भर के लाखों निवेशकों के पैसे फंसे हुए हैं. आए दिन लोगों के सवाल आते हैं कि आखिर Sahara India Refund Kab Milega? तो हम आपको यहां पर बताने वाले हैं कि सहारा इंडिया कंपनी का रिफंड कब मिलने वाला है. इसके साथ ही Sahara India refund apply online की जानकारी भी देने वाले हैं जिससे कि आप अपने पैसों के लिए अप्लाई कर सके और आपको तुरंत पैसे मिल सके. सहारा इंडिया कंपनी का कहना है कि कंपनी अपना पैसा लौट आना चाहती है लेकिन मार्केट रेग्युलेटर सेबी (SEBI) द्वारा इन कंपनियों के पैसे अपने पास रख लिए गए हैं. सहारा परिवार कंपनी में लोगों ने जमकर निवेश किया था जिस वजह से कंपनी में हजारों करोड़ों रुपए जमा है लेकिन अभी तक निवेशकों को अपने पैसों का इंतजार है. तो आइए आगे Sahara India latest News Today 2022 के बारे में जानते हैं.

Join

इन्हें भी पढ़ें-

Sahara India money refund latest News

सरकार के अनुसार सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड (SIRECL) ने 232.85 लाख निवेशकों से 19400.87 करोड़ रुपये और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने 75.14 लाख निवेशकों से 6380.50 करोड़ रुपये एकत्र‍ित किए थे. लेकिन आपको बताना चाहेंगे कि रेगुलेटिंग से भी अभी तक 138 करोड रुपए निवेशकों को लौटा चुकी है. लेकिन हाल भी निवेशकों के अरबों रुपए इस कंपनी में फंसे हुए हैं. सरकार की ओर से संसद में जानकारी दी गई है कि SEBI को 81.70 करोड़ रुपये की कुल मूल राशि के लिए 53,642 ओरिजिनल बॉन्ड सर्टिफिकेट/पास बुक से जुड़े 19,644 आवेदन मिले हैं. सेबी द्वारा इनमें से 138.07 करोड़ रुपये की कुल राशि 48,326 ओरिजिनल बॉन्ड सर्टिफिकेट/पासबुक वाले 17,526 एलिजिबल बॉन्डहोल्डर्स को रिफंड किया गया है. जिसमें की 70.09 करोड़ रुपये मूलधन और 67.98 करोड़ रुपये का ब्याज सम्मिलित है और बाकी के आवेदन बंद कर दिए गए.

Sahara India Latest news today 2022

SEBI Sahara refund form in Hindi

केंद्रीय मंत्री द्वारा जानकारी दी गई है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद और सहारा मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त जस्टिस बीएन अग्रवाल से सलाह मशविरा करने के बाद भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने निवेशकों को बताने वाले कई विज्ञापन दिए हैं. सहारा कंपनी की कई इकाइयों में निवेशकों के करोड़ों रुपए फंसे हुए हैं. हालांकि पहले बाजार नियामक सेबी द्वारा सहारा ग्रुप की दो कंपनियों सहारा कमोडिटी सर्विसेज कॉर्पोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड को मंजूरी मिल गई थी. सुब्रत रॉय और तीन अन्य पर 12 करोड़ रुपये रुपए की पेनल्टी लगाई गई थी. आपको बता दें कि इन कंपनियों ने कानून का उल्लंघन किया था जिसके तहत इन कंपनियों पर 2008 और 2009 में इन कंपनियों पर जुर्माना ठोका गया था.

Sebi Sahara refund online application form 2022

  1. सभी निवेशकों को हम बताना चाहेंगे कि बाजार नियामक सेबी द्वारा एप्लीकेशन स्वीकार करना बंद कर दिया है. लेकिन यदि फिर भी आप अपना एप्लीकेशन देना चाहते हैं तो आप सबसे पहले कंजूमर हेल्पलाइन की ऑफिशियल वेबसाइट पर जा सकते हैं.
  2. ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपको यहां पर अपने आवश्यक दस्तावेजों और मांगी गई जानकारियों को दर्ज करना होगा और अपलोड करना होगा.
  3. जिसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जाएंगे इसके बाद आप अपने कंप्लेन का स्टेटस देख सकते हैं.
  4. जिसके बाद कंजूमर हेल्पलाइन सेबी से संपर्क करके इस मामले में कोई हल निकालेगी.
PH Home PageClick Here

About Touseef 3659 Articles
Tauseef was born in Deharadoon, Uttarakhand. He began writing in 2021, and has contributed to the educational and finance content. He lives in Nainitaal.