Success Stories

नारी तू नारायणी (Naari Tu Narayani)

उज्जैन : नारी यानी एक महिला स्त्रीत्त के गुणों की खान –

नारी नारी क्या करता है नारी नर की खान नारी से ही नर मिले राम,

Join

कृष्णा ध्रुव प्रहलाद नानक कबीर समान

आज का मेरा मानना है कि पाश्चात्य संस्कृति हमें अपने संस्कारों को छोड़कर यह सिखाएगी क्या लड़की हूं लड़ सकती हूं तो क्या यह लड़की अपने पिता से भाई से और आगे जाकर अपने पति और बेटे से विद्रोह या लड़ना सीखेगी। नारी को इस तरह से अबला बनाकर समाज में पेश करना ।

Naari Tu Narayani
Naari Tu Narayani

यह कहां की बीमार मानसिकता का एक उदाहरण आज के समय में दिया जा रहा है एक सबल और सजग नारी में कुठित भाव पैदा करना कहा की समझदारी है भारतीय नारी अपने संस्कारों से अपने माधुर्य से सब कुछ करने में सक्षम है जिस तरह अनुसुइया की परीक्षा भगवान ब्रह्मा विष्णु महेश ने लेनी चाहि है देवी हमें भी भीक्षा दे और इश्वर की चुनौती को स्वीकार करके अपने सतीत्व की रक्षा की और ईश्वरत्व को बाल रूप देकर दुग्ध पान कारवाकर नारी का मान बढ़ाकर असंभव कार्य करके एक बेहतरीन उदाहरण दिया। एक जन्म का नहीं कई जन्मों तक याद रखे जाना वाले अद्भुत अलौकिक अतुलनीय उदाहरण भारतीय नारियों ने दिए हैं।

वर्दे मातृशक्ति

सुषमा अगाल

उज्जैन मध्यप्रदेश

अगर आप भी अपना लेख हमारी वेबसाईट पर अपलोड करवाना चाहते हो तो कान्टैक्ट करे 8978302195 पर तथा physicshindi.com पर लगातार विज़िट करते रहे।

You may also like

Comments are closed.