प्रश्न में गड़बड़ियों पर छात्रों को मिलेंगे बोनस अंक

मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिम) की 10वीं-12वींकी बोर्ड परीक्षा में इस बार प्रश्नपत्रों में कई प्रश्नों में गलतियां पाई गई है। 12वीं के प्रश्नपत्रों में अधिक गलतियां सामने आई है। मूल्यांकन का दूसरा चरण बुधवार से शुरू हुआ है। दसवीं-12वीं के विद्यार्थियों की कापियां जांची जा रही हैं। इस दौरान 12वीं के गणित व भूगोल के पेपर में गलती निकली है। माशिम द्वारा गलती वाले पेपरों में छात्रों को बोनस अंक दिए जाएंगे। इस कारण दोनों माध्यमों के विद्यार्थियों को एक अंक बोनस का मिलेगा। मूल्यांकन का पहला चरण पांच मार्च से शुरू हुआ था। इसमें 28 फरवरी तक संपन्न हो चुकी परीक्षाओं की कापियां जांची जा रही हैं।

मूल्यांकन में 30 हजार शिक्षक शामिल हैं। प्रदेश के 18 लाख विद्यार्थियों की एक करोड़ 30 लाख कापियां जांची जाएंगी। इतनी सारी गलतियां, योग्यता पर प्रश्नचिह्न बोर्ड के प्रश्नपत्र के कई सेट : बनते हैं। इसे तीन स्तर पर तैयार किया जाता है। इसमें पेपर सेटर, माडरेटर व प्रश्न पत्र विश्लेषक होता है। पेपर सेटर द्वारा प्रश्नपत्र तैयार किया जाता है। इसमें कोई गलती हो तो माडरेटर इसकी जांच करता है। इसके बाद प्रश्न पत्र विश्लेषक द्वारा जांच की जाती है। इसके बावजूद गणित के पेपरों में इतनी संख्या में गलती निकलना योग्यता पर प्रश्न चिन्ह लगाता है।

बारहवीं के इन विषयों में त्रुटि पाई बाई है- गणित प्रश्न क्रमांक 2 (7) में अंग्रेजी माध्यम के विद्यार्थियों के पेपर में गलती है। एक अंक मिलेगा।  में गलती है। एक अंक मिलेगा। प्रश्न 4 (1) में गलती है। इसमें हिंदी व अंग्रेजी दोनों माध्यम के विद्यार्थियों को एक अंक मिलेगा। प्रश्न 17 में दोनों माध्यमों के विद्यार्थियों को तीन अंक मिलेंगे। भूगोल प्रश्न क्रमांक 2(4) कम किए पाठ्यक्रम से पूछा गया है। इसके लिए एक अंक प्रदान किया जाएगा। लेखाशास्त्र: प्रश्न क्रमांक 23 के विकल्प में त्रुटि है। इसमें भी अंक दिया जाएगा। 

इधर, सरकारी स्कूल में शिक्षकों ने लगाए गानों पर ठुमके, डीईओ ने भेजा नोटिस:-

राजधानी के एक सरकारी स्कूल में शिक्षकों ने विद्यार्थियों के साथ डांसर सपना चौधरी के गाने पर जमकर ठुमके लगाए। विद्यार्थियों के लिए आयोजित विदाई समारोह में शिक्षकों ने डांस कर खूब जलवा बिखेरा। इसका वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया। यह मामला शासकीय उमावि वावडियाकला काहै। यहां पिछले दिनों विदाई समारोह आयोजित किया गया था। समारोह में फैशन शो भी रखा गया था। इसमें भी छात्राओं के साथ शिक्षिकाएं शामिल हुई। जब अंत में फिल्मी गाना वजना शुरू हुआ तो छात्र-छात्राएं तो डांस करने ही लगे, इस दौरान पुरुष और महिला शिक्षक भी अपने आप को डांस करने से नहीं रोक सके। उन्होंने भी जमकर ठुमके लगाए। जब वीडियो वायरल हुआ तो अभिभावकों ने आपत्ति जताई।

mpbse 10th-12th students will get bonus marks
mpbse 10th-12th students will get bonus marks

अभिभावकों का कहना है कि वे बच्चों को स्कूल पढ़ने के लिए भेजते है, न कि डास व हुड़दंग मचाने के लिए जब शिक्षक ही फिल्मी गानों पर नाचने लगेंगे तो फिर बच्चों को क्या संस्कार दे पाएंगे। उन्होंने इसकी शिकायत प्राचार्य ब्रजेश सक्सेना से की है। उनका कहना है कि उस समारोह में वे उपस्थित नहीं थे। मामले की शिकायत मिली है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी। इस समारोह में डांस कर रहे शिक्षकों का वीडियो स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों के पास पहुंच गया है। अधिकारियों ने इस पर कार्रवाई करते हुए शिक्षकों के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) नितिन सक्सेना ने बताया कि अभिभावकों ने आपत्ति जताई है। शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है। जांच की जा रही है।

दूसरे राज्यों में पुरानी पेंशन योजना लागू, यहां घोषणा भी नहीं:-

होलिका दहन के अवसर पर कर्मचारियों ने न्यू पेंशन योजना 2005 एनपीएस के आदेश की प्रतियों की होली जलाकर विरोध दर्ज कराया। कर्मचारियों ने मंत्रालय के सामने आदेशों की प्रतियों की होली जलाकर पुरानी पेंशन योजना लागू करने की मांग को मात्र कर्मचारी मंच के प्रांताध्यक्ष अशोक पांडे ने कहा कि राज्य सरकार विधायकों के निधि में तो करोड़ों की वृद्धि कर रही है। लेकिन 55 हजार एनपीएस धारक एवं 48 हजार स्थाई कर्मी के लिए पुरानी पेंशन योजना लागू नहीं कर रही है। विधानसभा का बजट सत्र भी खत्म हो गया और सरकार ने अभी तक पुरानी पेंशन योजना लागू करने को किसी प्रकार की घोषणा तक नहीं की। जबकि अन्य राज्यों ने पुरानी पेंशन योजना लागू कर दी है।

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE