MP school update 2022: हो जाओ सावधान! अब स्कूल पर होगा फोकस

मध्य प्रदेश में हाल ही में माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मध्य प्रदेश बोर्ड परीक्षा परिणाम घोषित किया है l जिसमें काफी विद्यार्थी पास हुए हैं, लेकिन वहीं दूसरी तरफ कई विद्यार्थी ऐसे हैं जो फेल हुए हैं l इस स्थिति को देखते हुए जिला शिक्षा अधिकारी (रीवा) ने यह निर्णय लिया है कि जिले में जितने भी स्कूल हैं, उनमें जहां-जहां भी फेल हुए विद्यार्थी की संख्या अधिक है तो ऐसी स्कूलों पर अब फोकस किया जाएगा l विद्यार्थी से अपील करते हैं कि  वह इस पोस्ट को अपने प्राचार्य को जरूर भेजें, ताकि वह सबक ले सके और अपने स्कूल में एजुकेशन सिस्टम पर फोकस करें, अन्यथा उनकी स्कूलों पर फोकस किया जाएगा l

MP school update 2022

जिले की लगभग 107 स्कूलों के परीक्षा परिणाम 30 प्रतिशत से कम आने के बाद स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों में हड़कम्प मचा हुआ है। शिक्षा का स्तर कैसे सुधरे इसको लेकर लगातार फोकस किया जा रहा है। आलम यह है कि प्राचार्यों पर सख्ती बरतने के लिए उन्हें नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। गौरतलब है स्कूल शिक्षा विभाग में बोर्ड की परीक्षाओं के परिणाम बेहतर लाने के उद्देश्य से नित नए नवाचार किए जाते हैं। इसके बाद भी परीक्षा का परिणाम बेहतर नहीं आ पाता। जिसकी प्रमुख वजह मॉनीटरिंग एवं स्कूल शिक्षकों की लापरवाही को माना जाता है। हालांकि इसमें छात्रों की पढ़ाई कमजोर होना भी एक प्रमुख वजह होती है।

पिछले सत्र का रिजल्ट था कुछ ऐसा

पिछले शैक्षणिक सत्र के दौरान हाईस्कूलों के रिजल्ट करीब 54.26 प्रतिशत बने थे। जिले की करीब 107 ऐसी स्कूलें रहीं जहां रिजल्ट 30 प्रतिशत से भी कम आया था अब कम रिजल्ट को लेकर शिक्षा विभाग में हड़कम्प मचा हुआ है। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से 30 प्रतिशत से कम रिजल्ट वाली स्कूलों की सूची तैयार करके संबंधित प्राचार्यों को नोटिस जारी कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया है। बताया गया है कि ऐसी 30 प्रतिशत रिजल्ट वाली स्कूलों में अब नए शैक्षणिक सत्र के दौरान शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा l

Join
MP school update 2022
MP school update 2022

नियमित होगी मॉनीटरिंग 

बोर्ड का बेहतर परिणाम लाने के लिए सभी स्कूलों में शिक्षा एवं कक्षाओं के पठन-पाठन को बेहतर बनाने के लिए छात्रों की मॉनीटरिंग भी नियमित तौर पर की जाएगी। उल्लेखनीय है कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने के लिए आने वाले छात्र नियमित तौर पर पढ़ाई नहीं करते हैं जिसका परिणाम यह होता है कि बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट कम आते हैं। यही नहीं पढ़ाई के बाद भी छात्र सलेबस की तैयारी नहीं करते हैं। ऐसे में परीक्षा परिणाम को बेहतर बनाने शिक्षकों को निर्देश दिए जाएंगे।

  • प्राचार्यों को नोटिस जारी कर मांगी जानकारी
  • 30 प्रतिशत से कम परिणाम लाने वाली विद्यालयों पर होगा फोकस

देनी होगी जानकारी

जानकारी के अनुसार हाईस्कूलों में 30 प्रतिशत से कम रिजल्ट को लेकर मंथन चल रहा है और इन स्कूलों का रिजल्ट बेहतर कैसे बनाया जाए इस पर भी अमली जामा पहनाने डीईओ से लेकर तमाम अधिकारी जुटे हुए हैं। रिजल्ट को लेकर जहां एक ओर प्राचार्यों से स्पष्टीकरण मांगा जा रहा है तो वहीं संबंधित विषय के शिक्षकों से भी यह जानकारी ली जाएगी कि उन्होंने गुणवत्ता बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा। अपने विषय में छात्रों को कितना पढ़ाया है और कितनी तैयारी कराई है। विभाग का मानना है कि सभी विषयों को लेकर विद्यार्थियों को कितना ज्ञान दिया है। विभाग का मानना है कि सभी विषयों के शिक्षक स्कूलों में पदस्थ होने के बाद भी विषयवार कक्षाओं का संचालन न हो पाने की वजह से स्कूलों में इतना कम रिजल्ट आया है l

इन विषयों पर होगा फोकस

गौरतलब है कि स्कूल शिक्षा द्वारा संचालित होने वाली सरकारी स्कूलों के परिणाम बेहतर लाने के प्रयास तो किए जाते हैं लेकिन वह सब हवा हवाई ही साबित होते हैं। 30 प्रतिशत रिजल्ट वाली स्कूलों को एक बार फिर चिन्हित कर उनमें विशेष शिक्षा का फोकस होगा। बताया गया है कि जिन स्कूलों को चिन्हित किया गया है उनमें अंग्रेजी, गणित और विज्ञान विषय को लेकर फोकस किया जाएगा। इन विषयों में कम अंक पाने वाले छात्रों की स्थिति को लेकर प्राचार्यों से जवाब तलब होगा। साथ ही इन विषयों की पढ़ाई का स्तर क्या रहा इस पर भी मंथन होगा। सरकारी स्कूलों में पठन पाठन की व्यवस्थाएं अभी भी बेहतर नहीं हैं। कहने को तो व्यवस्था के तौर पर करोड़ों रुपए बहाया जाता है लेकिन व्यवस्थाएं जस की तस बनी हुई हैं।

FAQs about MP school update 2022

1. क्या अब मंडल सभी स्कूलों में फोकस करेगा ?

Ans. जी नहीं दोस्तों! यह लाल मंडल ने नहीं किया, जिला शिक्षा अधिकारी ने जिले की स्कूलों को चेतावनी दी है l

2. जिन स्कूलों का परिणाम अच्छा नहीं रहा अब उन पर क्या कार्यवाही होगी?

Ans. फिलहाल अभी जिला शिक्षा अधिकारी ने ऐसी स्कूलों पर फोकस करने को कहा है और उनसे सवाल जवाब किए जा रहे हैं l

3. मध्य प्रदेश के स्कूल कब से खोले जाएंगे?

Ans. दोस्तों मध्य प्रदेश के सभी स्कूलों को पुनः खोल दिया गया है और नए सत्र की पढ़ाई भी शुरू की जा चुकी है l

JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE