ओमिक्राॅन को लेकर अलर्ट, सील होंगे स्कूल | Mp school effect of Omicron

ओमिक्राॅन को लेकर अलर्ट, सील होंगे स्कूल | Mp school effect of Omicron

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्राॅन को लेकर प्रशासन ने लोगों को आग्रह किया है कि कोरोना प्रोटोकाॅल का पालन करें। स्कूल संचालकों को स्पष्ट कर दिया है कि 50 प्रतिशत उपस्थिति का अनिवार्य रूप् से पालन करें और छोटे बच्चों की कक्षाओं का ऑनलाइन संचालन करें। यदि नियमों का उल्लंघन किया तो स्कूल सील कर देंगे। अफसरों ने कोविड केयर सेंटरों को लेकर तैयारियां भी शुरू कर दी है। इसके तहत राधास्वामी सत्संग न्यास का दौरा किया गया।

कोविड केयर सेंटरों को लेकर तैयारियां शुरू

कलेक्टर मनीष सिंह ने एसडीएम को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों के स्कूलों पर नजर रखें। स्कूल संचालकों को नियमानुसार ही विद्यार्थियों को बुलाने के लिए कहा गया है। उधर, एयरपोर्ट, रेल्वे व बस स्टैंड पर निगरानी दस्ते तैनात किए जा रहे हैं। विदेश से आने वाले लोगों पर नजर है। इनके कोरोना संक्रमित मिलने पर तत्काल जिनोम स्क्वेंसिंग के लिए सैंपल भेजे जा रहे हैं। जिला प्रशासन ने लोगों से यह भी कहा है कि जल्द से जल्द वैक्सीनेशन करवा लें।

Join

| Class 12 paper Click Here

| Class 10 paper Click Here

कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंका से विद्यार्थियों के साथ ही उनके अभिभावकों में भी डर फैल गया है। खासकर जो विद्यार्थी शहर में पढ़ाई कर रहे हैं, उनके माता-पिता इस समय ज्यादा चिंता कर रहे हैं कि कहीं संक्रमण न बढ़ जाए। इसके चलते शहर के कई विद्यार्थी अब वापस अपने घर जाने लगे हैं।

Mp school effect of Omicron
Mp school effect of Omicron

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि कोरोना वायरस की तीसरी लहर आने की संभावना है। उन्होंने कहा है कि संभावित तीसरी लहर जनवरी में आ सकती है। उन्होंने इस आशंका को देखते हुए मंत्रियों को नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि मंत्री अभी से सक्रिय हो जाए। प्रभारी मंत्री प्रभार के जिले और अपने क्षेत्र में चाक-चैबंद वयवस्थाएं सुनिश्चित करें। प्रदेश में लाॅकडाउन लगाने की स्थिति नहीं बनने देंगे।

राधा स्वामी सत्संग न्यास में तैयार हो रहा कोविड केयर सेंटर

दूसरी लहर के समय राधास्वामी सत्संग न्यास में 1 हजार से ज्यादा बेड का कोविड केयर सेंटर तैयार किया था। इसे दोबारा तैयार करने के लिए मंगलवार को आइडीए सीईओ विवके श्रोत्रिय व स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने निरीक्षण किया। प्रारंभिक तौर पर यहां 100 बेड की तैयारी है।

एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए आप हमारी वेबसाईट physicshindi.com पर रेगुलर विज़िट करते रहिए तथा इस पोस्ट को शेयर करना न भूलें अपने दोस्तों के साथ।

अगर आप मार्कशीट में करेक्शन कैसे करें इसका पूरा प्रोसेस जानना चाहते है तो यहाँ पर क्लिक करें

Leave a Comment