MP College News: छात्राओं ने ऑनलाइन परीक्षा को लेकर उठाई मांग, जमकर किया हंगामा

MP College News – नमस्कार दोस्तों इस बर्ष जनवरी से ही covid-19 संक्रमण देखने को मिल रहा है संक्रमण की दर लगातार बढ़ रही है और ये जो बढती दर है इसके आकडे चौकाने वाले है जो की पिछले बर्ष की तुलना में इस बर्ष काफी ज्यादा है पिछले बर्ष जनवरी माह में जितने मामले नहीं थे जो की आज देखने को मिल रहे है किन्तु पिछले साल संक्रमण दर कब होने के बाद भी ऑनलाइन और ओपन बुक एक्सम हुई थी किन्तु इस इस बर्ष ऑफलाइन एग्जाम होने वाले है टाइम टेबल और एडमिट कार्ड आ चुके है सिलेबस पूरा नहीं हुआ और ऑफलाइन एग्जाम कैसे संभव हो पायेगा इन सब कारणों से छात्राओं ने ऑनलाइन परीक्षा को लेकर उठाई मांग, जमकर किया हंगामा.

MP College News

जबलपुर के गर्ल्स कॉलेज की छात्राओं ने ऑनलाइन एग्जाम की मांग करते हुए जमकर हंगामा किया

जबलपुर के एक गर्ल्स कॉलेज की छात्राओं ने जमकर हंगामा किया. छात्राएं कॉलेज के सामने सड़क पर बैठ गई और परीक्षाएं ऑनलाइन या ओपन बुक से कराने की मांग करने की. छात्राओं को कहना था कि कोरोना की तीसरी लहर के चलते संक्रमण तेजी से फैल रहा है. अभी ऑफ लाइन परीक्षा लेने से संक्रमण बढ़ सकता है. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जहां सरकार सतर्क होने के निर्देश जारी कर रहा है,वहीं स्कूल-कॉलेजों में एक बार फिर ऑनलाइन क्लास लगाने और ऑनलाइन परीक्षा करवाने की मांग की कर रहा है.

Join

गुरुवार को जबलपुर के होम साइंस महिला कॉलेज की करीव 100 से अधिक छात्राओं ने ऑनलाइन या फिर ओपन बुक एग्जाम करवाने के लिए जमकर प्रदर्शन किया.सैकड़ों छात्राएं NSUI के बैनर तले होम साइंस कॉलेज के सामने सड़क पर आ गईं और बीच सड़क पर बैठकर हंगामा करने लगी. इस दौरान उन्होंने शिक्षामंत्री मुर्दाबाद के नारे भी लगाए.छात्राओं द्वारा हंगामा करने की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया जिसने छात्राओं को समझाने का प्रयास किया. इस दौरान करीब आधे घंटे तक सड़क पर दोनों तरफ जाम लगा रहा.हालांकि पुलिस द्वारा कोरोना गाइड लाइन का हवाला देने के बाद छात्राएं सड़क से हट गई. 

शासन के आदेश के अनुसार आयोजित होगी परीक्षा

दोस्तों आपको बता दे की NSUI की छात्र नेता देवकी पटेल का कहना है कि उनकी हमारी सिर्फ यही मांग है कि कोरोना संक्रमण के कारण छात्राओं के मन में भी डर का माहौल है.एकओर सिलेबस कंप्लीट नहीं हुआ और छात्राओं की तैयारी भी नहीं है. इसलिए या तो ऑनलाइन एग्जाम करवाये जाएं या फिर ऑफ लाइन में ओपन बुक पद्धति से परीक्षा कराई जाए.वहीं कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि वे शासन के निर्देश पर ही परीक्षाएं आयोजित करते हैं और अभी तक ऑनलाइन परीक्षा करवाने के निर्देश नहीं मिले हैं,

बल्कि 50 प्रतिशत छात्राओं की उपस्थिति के साथ परीक्षा करवाने के निर्देश हैं.होम साइंस कॉलेज की प्राचार्य नंदिता सरकार ने कहा कि यदि शासन द्वारा कोई निर्देश मिलते हैं तो उसी का पालन करते हुए परीक्षाएं आयोजित कराई जाएंगी. दोस्तों ये तो थी कॉलेज एग्जाम की जानकारी अब डॉक्टर और एक्सपर्ट का क्या कहना है आइये जानते है.

MP जनसंपर्क : तीसरी लहर आ चुकी है, पूरी संवेदनशीलता के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करें चिकित्सक

सभी चिकित्सक अपने दायित्वों का निर्वहन संवेदनशीलता के साथ करें। शुरुआती दौर से ही यदि व्यवस्थाओं को दुरुस्त कर लिया जाए तो तीसरी लहर का खतरा कम किया जा सकता है। ज्जत बातें कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने चिकित्सकों के साथ बैठक में कही। बैठक का आयोजन विक्टोरिया अस्पताल में किया गया। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है। इसकी रोकथाम व बचाव के लिए पूरी क्षमता के साथ कार्य करना है। कोरोना कंट्रोल रूम, कोविड केयर सेंटर व फीवर क्लीनिक में अतिरिक्त मानव संसाधन की आवश्यकता पड़ेगी।

इसकी पूर्ति शीघ्र सुनिश्चित की जाए। दरअसल, दो तीन दिन के कोविड डेटासे यह पता चल रहा है कि कोरोना संक्रमण तेजी से फैल सकता है। अत: हर संभव तरीके से इसे रोकने के सभी प्रयास प्राथमिकता से किए जाएं। कोरोना कंट्रोल रुमसे प्रत्येक संक्रमित व्यक्ति के स्वास्थ्य की जानकारी की जाए। ऋोंने कांट्रेक्ट ट्रेसिंग, मरीजों की काउंसलिंग व घर-घर दवाईयां पहुंचाने की व्यवस्था को दुरस्त करने के निर्देश दिए।

JOIN WHATSAPP GROUPCLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUPCLICK HERE
PHYSICSHINDI HOMECLICK HERE