Mp cm rise school news | सीएम राइज स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर्स की परीक्षा आज | 1500 करोड़ के मेगा प्लान में स्कूल निर्माण के लिए चुनौतीपूर्ण आर्किटेक्ट पैनल तैयार

Table of Contents

Mp cm rise school news | सीएम राइज स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर्स की परीक्षा आज | 1500 करोड़ के मेगा प्लान में स्कूल निर्माण के लिए चुनौतीपूर्ण आर्किटेक्ट पैनल तैयार

सीएम राइज स्कूल योजना में शिक्षा के नवाचार का फायदा उठाने अब विधायकों से लेकर मंत्रियों के बीच प्रतिस्पर्धा का दौर शुरू हो चुका है। जनता का हर नुमाइंदा इस योजना के तहत अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में स्कूल खुलवाना चाह रहा है। लोक शिक्षण संचालनालय का कहना है कि इसके लिए माननीय ए प्लस नोटशीट लिखवाकर सरकार का सपोर्ट ले रहे हैं।
राज्य सरकार ने मौजूदा वर्ष के मार्च माह के बजट सत्र के दौरान 9200 विद्यालयों को सीएम राइज में बदलने का फैसला किया था। इसके लिए बाकायदा 1 हजार 500 करोड़ का बजट भी विधानसभा में पारित किया गया था। योजना के तहत पहले चरण में 350 विद्यालयों का अत्याधुनिक कार्य पूर्ण कर कार्पोरेट का रूप् दिया जाना है। योजना में एक हायर सेकंडरी स्कूल कोे सर्व सुविधा युक्त बनाया जाएगा जिससे 15 किमी की परिधि में आने वाली शालाओं के बच्चों का समायोजन हो सके। इतनी दूरी में बाकायदा बच्चों को परिवहन के जरिए इन संस्थानों में अध्ययन कराने की व्यवस्था की गई है।

Mp cm rise school news
Mp cm rise school news


स्कूलों में दक्ष शिक्षक से लेकर आधुनिक कंप्यूटर लैब, खेल मैदान, लाइब्रेरी वेस्टर्न टाॅयलेट सहित अन्य सुविधाओं को सुसज्जित किया जाना है। ब्राजील सिंगापुर केन्या कनाडा रूस जैसे देशों में भी इसी प्रकार सरकारी स्कूलों का संचालन हो रहा है। सीएम राइज स्कूल योजना में निर्धन बच्चों के शैक्षणिक गुणातमक विकास के फायदे जब सामने दिखे तो विधायक और मंत्रियों में प्रतिस्पर्धा शुरू हो गई है। लोक शिक्षण संचालनालय का कहना है कि शुरूुआती दौर में तो किसी भी माननीय द्वारा यह मांग नहीं की गई थी किउनके क्षेत्र मेें स्कूलों का संचालन हो। योजना पर कार्य शुरू हुआ तो अब हर जनप्रतिनिधि बच्चों का सुनहरा भविष्य देखते हुए अपने विधानसभा क्षेत्र में यह स्कूल लाने एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं। संचालनालय की माने तो अभी तक 8 ऐसे मंत्री हैं जिन्होंने ए प्लस नोट शीट खिवाकर अपने क्षेत्रों में स्कूल खोलने की मांग की है। 15 विधायक भी तकरीबन 2 महीने से इसी प्रयास में लगे हुए हैं।

Mp cm rise school news | किसान मजदूरों के बच्चों की छिपी शैक्षणिक तरक्की

CBSE स्कूलों में राजनेताओं, अधिकारियों और धत्रा सेठ व्यवसायी वर्ग के बच्चे अध्ययन करते हैं। उससे कहीं आगे बढ़कर अब अच्छी सुविधाओं में किसान और मजदूरों के बच्चे भी सीएम राइज स्कूलों के माध्यम से पढ़ सकेंगे। शिक्षा विभाग का कहना है कि सभी कसौटियों को परखते हुए विद्यालयों में परीक्षा के जरिए शिक्षकों का चयन किया जा रहा है , ताकि गुणवत्ता युक्त शिक्षा पाकर इन सरकारी स्कूलों में भी गरीब बच्चों का कला कौशल बढ़ाया जा सके।

Mp cm rise school news | शासन के निर्देश के अनुसार योजना पर तेजी से कार्य: कुशवाहा

इस संबंध में लोक शिक्षण संचालनालय के अपर संचालक डीएस कुशवाहा का कहना है कि सीएम राइज स्कूल योजना के अंतर्गत स्कूलों का निर्माण कराने के लिए आर्किटेक्ट पैनल की सूची तैयार हो चुकी है। जल्द ही इनके द्वारा काम प्रारंभ किया जाएगा। यह सही है कि विधायक एवं मंत्रियों की भी लगातार मांग आ रही है कि उनके विधानसभा क्षेत्रों में सीएम स्कूल खुलना चाहिए। इसके लिए कुछ ए प्लस की नोट शीट भी आई है। सरकार के जो निर्देश है। उसी के अनुसार इस महत्वकांक्षी योजना पर नियम से कार्य हो रहा है।

Mp cm rise school news | बच्चों से लेकर शिक्षकों की भी होगी आवासीय व्यवस्था

राज्य में हिंदुस्तान की यह पहली व्यवस्था होगी, जहां सीएम राइज स्कूलों में एक ही परिसर के नीचे जहां बच्चे रहेंगे तो शिक्षकों की भी आवासीय व्यवस्था होगी। शिक्षकों के निवास करने के लिए स्कूल में अगर जगह का अभाव होगा तो शिक्षकों के लिए आसपास आवास की व्यवस्था विभाग द्वारा करवाई जाएगी। इसके लिए पूरी तैयारी चल रही है।

Mp cm rise school news | विद्यालयों का सुसज्जित निर्माण करवाने आर्किटेक्ट पैनल तैयार:

स्कूल शिक्षा विभाग का कहना है कि सीएम राइज स्कूलों का सुसज्जित निर्माण करवाने के लिए अनेक चुनौतियों का सामना करते हुए आर्किटेक्ट पैनल तैयार कर दिया गया हैं पैनल के सदस्य हर उस स्कूल में पहुंचेंगे जिसे सीमए राइज के लिए चिन्हित किया गया है। ऐसे स्कूलों में देखा जाएगा कि अगर पहले से बेहतर भवन हैं तो उन्हें नहीं तोड़ा जाएगा। अगर जर्जर भवन या फिर कक्षों का अभाव है तो स्कूल परिसर में ही नवीन निर्माण करवाया जाएगा। इसके लिए हर चयनित स्कूल का मिट्टी परीक्षण करवाया जा रहा है। यहां पर मिट्टी से लेकर पानी और प्र्यावरण की गतिविधियां भी देखी जाएगी।

Join

Mp cm rise school news | सीएम राइज स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर्स की परीक्षा आज

प्रदेश में सरकारी स्कूलों को हाईटेक बनाने अब सीएम राइज स्कूल खालने की तैयारियां की जा रही हैं। सीएम राइज स्कूल में पढ़ाने के लिए शिक्षकों को परीक्षा देनी होगी। श्क्षिकों को लिखित और मौखिक परीक्षा से गुजरना होगा। सीएम राइज स्कूलों में शिक्षकांे के चयन के लिए 28 नवंबर को परीक्षा आयोजित की जा रही है। परीक्षा में पास होने वाले शिक्षक ही सीएम राइस स्कूल में पढ़ा सकेंगे। सीएम राइज योजना के तरह प्रदेश भर मे 9200 स्कूल खोले जाने हैं। स्कूल खोलने कोे लेकर तैयारियां की जा रही है। पहले चरण में जिला विकासखण्ड और संकुल स्तर पर 350 स्कूल खोले जाएंगे। स्कूल अभी भी पुराने भवनों मेे ही लगेंगे। साल 2023 तक इन स्कूलों के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं ले लैस भवन तैयार कराए जाएंगे।
पेपर में परीक्षा के लिए 03 भाग होंगे। विषय विज्ञान 50 नंबर का, एप्टिट्यूड टेस्ट 10 अंक का, साइकोमेट्रिक टेस्ट 10 नंबर का, अंग्रेजी का ज्ञान 10 नंबर और 20 नंबर का साक्षात्कार लिया जाएगा। इस परीक्षा को पास करने के बाद ही शिक्षक सीएम राइज स्कूलों में पढ़ाने के लिए योग्य माने जाएंगे। चयनित शिक्षकों का कार्यकाल 05 साल का रहेगा।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

एमपी बोर्ड मॉडल पेपर्स डाउनलोड करने के लिए यहाँ पर क्लिक करें 
एमपी बोर्ड अर्धवार्षिक परीक्षा सिलेबस पीडीएफ़ डाउनलोड क्लिक here
एमपी बोर्ड त्रैमासिक परीक्षा 2021 के सभी पेपर पीडीएफ़ डाउनलोड click here
एमपी बोर्ड मासिक टेस्ट – अगस्त सोल्यूशंस पीडीएफ़ डाउनलोड 2021  click here

अगर आप मार्कशीट में करेक्शन कैसे करें इसका पूरा प्रोसेस जानना चाहते है तो यहाँ पर क्लिक करें

MP की सभी खबरों के लिए आप हमारी वेबसाईट physicshindi.com पर रेगुलर विज़िट करते रहिए तथा इस पोस्ट को शेयर करना न भूलें अपने दोस्तों के साथ।