एमपी बोर्ड बड़ी खबर : बिना वेक्सीनेशन के नहीं दे पाएंगे छात्र बोर्ड परीक्षा

प्यारे छात्रों ओमिक्राॅन वायरस का खतरा बढ़ता जा रहा है और सरकार ने सभी से अपील की है कि हर नागरिक जिसकी आयु 18+ है वह वैक्सीन लगवाए और 15 से 18 आयु वालों के लिए भी वेक्सीन आ चुकी है और प्रदेश के अधिकतर स्कूलों को कैम्प बनाकर वहीं के विद्यार्थियों को लगाई जा रही है। दसवीं और बारहवीं बोर्ड के परीक्षार्थियों की उम्र लगभग 15 से 18 के बीच होती है और परीक्षाएं ऑफलाइन आयोजित किया जाना है इसी कारण सरकार ने आदेश दिया है कि हर विद्यार्थी को वैक्सीन लगवाना जरूरी है अन्यथा वह बोर्ड परीक्षा में शामिल होने से वंचित रहेगा।

एमपी बोर्ड बिना वेक्सीनेशन के नहीं दे पाएंगे छात्र बोर्ड परीक्षा

असल में दसवीं एवं बारहवीं की होने वाली बोर्ड परीक्षा 17 फरवरी से प्रारम्भ होने जा रही है और यह परीक्षाएं ऑफलाइन मोड पे परीक्षा केंद्र में ही आयोजित होंगी। प्रदेश के निजी और सरकारी स्कूलों के 18 लाख विद्यार्थियों को दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं देना हैं। विद्यार्थियों को अब कोरोना वैक्सीन लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। यदि उन्होंने निर्धारित समय सीमा में वैक्सीन नहीं लगवाया, तो उन्हें दसवीं और बारहवीं की होने वाली ऑफलाइन परीक्षाओं में शामिल नहीं किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक करीब 55 फीसदी विद्यार्थियों को वैक्सीनेशन हो चुका है। करीब 45 फीसदी विद्यार्थियों का वैक्सीनेशन होना शेष है। अधिकारियों का कहना है कि परीक्षा शुरू होने के तक सभी विद्यार्थियों का वैक्सीनेशन पूर्ण हो जाएगा। विद्यार्थी आदेशों का पालन नहीं करेंगे, तो उन्हें बोर्ड परीक्षाओं में शामिल नहीं किया जाएगा।

क्यों लगवाना होगा वैक्सीन

प्यारे छात्रों जैसा कि आप सब जानते ही हैं कि कोरोना वायरस की तीसरी लहर जारी हो गई है और दिन ब दिन संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ते ही जा रही है। अब ऐसे में प्रदेश के करीब 18 लाख छात्र-छात्राएं बोर्ड परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों में जाएंगे और वहां भी कई जगह से लोग आए हुए होंगे तो ऐसी स्थिति में छात्र -छात्राओं और परीक्षा नियंत्रक और भी जो अधिकारी हैं उन्हें वेक्सीनेट होना बहुत जरूरी हैं। परीक्षाएं ऑफलाइन आयोजित की जानी है अगर एक भी छात्र या छात्रा को यह बीमारी हुई तो इससे बाकी छात्रों को भी खतरा रहेगा।

Join

 

MP Board vaccination compulsory for board exam
MP Board vaccination compulsory for board exam

कलेक्टर अविनाश लावनिया आदेश के तहत 15 से 18 साल के समस्त छात्र-छात्राओं को वैक्सीन लगवाना अनिवार्य किया गया है। ऐसे में अब तक राजधानी शहर में दो लाख छात्रों का वैक्सीनेशन हो चुका है। बचे हुए छात्रों को लेकर भी कई स्कूलों में वैक्सीनेशन कराया जा रहा है। कलेक्टर के आदेश के तहत वैक्सीनेशन नहीं कराने पर विद्यार्थी को स्कूलों में भी प्रवेश नहीं मिलेगा। आज भी पचास फीसदी उपस्थिति के साथ कॉलेज खोल दिये गये हैं।

अभी भी लगवा सकते हैं वेक्सीन

प्यारे छात्रों मध्यप्रदेश में 15 से 18 वर्ष के सभी नागरिकों और छात्र – छात्राओं को वेक्सीन लगवाने का काम जारी है। अभी तक जिन छात्र – छात्राओं ने वेक्सीन नहीं लगवाई है उन्हें चाहिए कि वह बोर्ड परीक्षा के पहले पहले वेक्सीन की प्रथम डोस लगवा लें अन्यथा वह बोर्ड परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE