एमपी बोर्ड अब हर छात्र होंगे पास – बदले पैटर्न का मिलेगा फायदा, MP Board Students good news 2022

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दसवीं और बारहवीं परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए परीक्षा के प्रश्न पत्रों का ब्लू प्रिंट जारी कर दिया है ताकि विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा के लिए अच्छे से तैयारी कर पाएं। शिक्षा मण्डल ने छात्रों की सहूलियत के लिए इस बार प्रश्न पत्र बेहद आसान तैयार किया है। जिसमें | अगर विद्यार्थी सिर्फ सभी वस्तुनिष्ठ प्रश्न ही हल कर देते हैं तो वह परीक्षा पास कर ले जाएंगे। इस बार प्रश्न पत्र का 40 प्रतिशत हिस्सा सिर्फ एक- एक नंबर वाले प्रश्नों से बनाया गया है। जिसमें सही विकल्प सही गलत खाली स्थान, जोड़ी मिलाव जैसे प्रश्न शामिल हैं। 12वीं की परीक्षा 17 फरवरी व दसवीं की परीक्षा 18 फरवरी से प्रारंभ होगी।

Join

हर छात्र होगा उत्तीर्ण

इस बार बोर्ड परीक्षा का परिणाम पिछले के पिछले सत्र के हिसाब से काफी बेहतर होगा। जिस हिसाब से प्रश्न पत्र तैयार किया गया है उसमें कमजोर से भी कमजोर छात्र आसानी से परीक्षा पास कर लेगा। ऐसे में उन शिक्षकों को बड़ी राहत मिलेगी जिनकी कक्षा का परिणाम 40 प्रतिशत से कभी ऊपर ही नहीं आया। प्रश्न पत्र इतने सरल बनाए गए हैं कि अगर विद्यार्थी थोड़ी-बहुत भी मेहनत कर ले तो वह बोर्ड परीक्षा को बड़े आराम से पास कर लेगा।

दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षा : छात्र सिर्फ वस्तुनिष्ठ प्रश्न हल कर दें तो भी पास भी पास हो जाएंगे

MP Board Students good news 2022
MP Board Students good news 2022

32 नंबर के सिर्फ आब्जेक्टिव सवाल रहेंगे

दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा के प्रश्न पत्र में 32 नंबर को क्वेश्चन एक-एक नंबर के होंगे। पूरा प्रश्न पत्र 80 नंबर का होगा और शेष 20 नंबर प्रेक्टिकल परीक्षा के होंगे। सही विकल्प के सवाल 6 नंबर के रिक्त स्थान के सवाल 7 नंबर के सही जोड़ी 6, सत्य-असत्य 6 और एक वाक्य के उत्तरों के लिए 7 प्रश्न एक एक अंक के रहेंगे। कुल मिलाकर यह 32 प्रश्नों का छात्र अगर सही उत्तर दे देते हैं तो वह उक्त विषय में पास हो जाएंगे।

इस बार बड़े उत्तर वाले प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे

माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने दस दस नंबर वाले प्रश्नों के उत्तर देने वाला सिस्टम ही खत्म कर दिया है। छात्रों को अब बड़े उत्तर लिखने की जरूरत भी नहीं है। दो-दो नंबर के दस प्रश्न पूछे जाएंगे। जिनमें ज्यादा से ज्यादा दो से पांच लाइन के प्रश्न हल करने हैं। इसके बाद तीन-तीन नंबर के चार प्रश्न होंगे और चार चार नंबर के चार प्रश्न पूछे जाएंगे। कुल 80 नंबर के प्रश्न पत्र में एक एक नंबर के 32, दो-दो नंबर के 10, तीन-तीन नंबर के 4 और चार चार नंबर के 4 प्रश्नही छात्रों को हल करने होंगे। इस बार निबंध लेखन भी 4 नंबर का ही होगा। जबकि इसके पहले की बोर्ड परीक्षाओं में निबंध और एप्लीकेशन लिखने में 10 नंबर मिलते थे।

एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए गूगल पर सर्च करें physicshindi.com तथा शेयर जरूर करें।