मई के पहले सप्ताह में आ सकते हैं बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट, 12वीं के परिणाम पहले घोषित होंगे

नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन के पेपर के साथ गुरुवार को एमपी बोर्ड की 10वीं की परीक्षा खत्म हो गई। 12वीं की परीक्षा शनिवार को संस्कृत के पेपर के साथ खत्म होगी। अब माध्यमिक शिक्षा मंडल मई के पहले सप्ताह में रिजल्ट देने की तैयारी में हैं।  पहले 12वीं का रिजल्ट घोषित होगा। एमपी बोर्ड की 10वीं-12वीं की परीक्षा 17 फरवरी से शुरू हुई थी। मंडल ने कॉपियों को जांचने का काम पांच मार्च से शुरू कर दिया है। इसमें 28 फरवरी तक संपन्न हो चुके पेपरों की कॉपियां जांची जा रही हैं। करीब 30 हजार शिक्षक मूल्याकंन कार्य में लगाए गए हैं। इसमें 12वीं की कॉपी जांचने का काम प्राथमिकता से किया जाएगा। मूल्यांकन का दूसरा चरण 15 मार्च से शुरू होगा।

Join

मूल्यांकन केन्द्रों से बोर्ड ने ऑनलाइन मंगाए नंबर-  जानकारी के अनुसार, एमपी बोर्ड की 10वीं-12वीं के विद्यार्थियों की कॉपियों के मूल्यांकन के नंबर इस बार ऑनलाइन मंगाए जा रहे हैं। मूल्यांकन के अंक ऑनलाइन आने से माध्यमिक शिक्षा मंडल को रिजल्ट बनाने में समय नहीं लगेगा। साथ ही इस बार परीक्षा जल्द शुरू होने से मूल्यांकन भी जल्द शुरू हो गया है। नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन के पेपर के साथ 10वीं के एग्जाम खत्म हो गई। एमपी बोर्ड मूल्यांकन के नंबर ऑनलाइन दिखेंगे।

एमपी बोर्ड परिणाम 2022:- मध्यप्रदेश बोर्ड परीक्षा 2022 की कक्षा 10वीं-12वीं की कॉपियों का मूल्यांकन शुरू हो चुका है। जांच व मुल्यांकन के पहले दिन 100 से अधिक शिक्षकों द्वारा लगभग 1200 कॉपियों का मूल्यांकन किया गया। मूल्यांकन के दौरान लगभग 6 प्रश्न पत्रों में प्रश्नों की गलतियां पाई गई। इन सभी 6 प्रश्न पत्रों में भाषा की त्रुटि बताई गई है। इसी का विश्लेषण और विचार करते हुए, मध्य प्रदेश बोर्ड ने कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षा में छात्रों को बोनस अंक देने का निर्णय लिया है। एमपी बोर्ड परिणाम 2022 मार्च में तो नहीं कह सकते हैं आ सकता है लेकिन मई पहले सप्ताह तक आ सकता है 10वीं-12वीं का रिजल्ट।

जिस छात्र से नकल की एक पर्ची मिली, जब तलाशी ली गई तो 50 पर्चियां और निकली:-

जीवाजी विवि में एलएलबी फिफ्थ सेम की परीक्षा में छात्र से नकल की एक नहीं बल्कि पचास पर्चियां मिली। पचियों में अधिक से अधिक मेटर आ सके, इसलिए छात्र माइक्रो जेरोक्स कराकर लाया था। छात्र नकल कर पाता, इससे पहले ही पकड़ा गया। इसके अलावा बीबीए फिफ्थ सेम की परीक्षा में भी एक नकल केस बना। दोनों छात्रों के खिलाफ नकल प्रकरण दर्ज करने के बाद नई कॉपिया पेपर हल करने के लिए दे दी गई। एलएलबी फिफ्थ सेम का छात्र जीतेंद्र सिंह कंसाना रोल नं. 171476563 पर वीक्षक को उसके पास एक नकल पचीं मिली।

MP Board Result 2022
MP Board Result 2022

वीक्षक छात्र को वरिष्ठ केंद्राध्यक्ष प्रो. संजय कुलश्रेष्ठ के पास ले गया। छात्र के खिलाफ नकल प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई की जाने लगी। केंद्राध्यक्ष डॉ. नवनीत गरुण ने छात्र की तलाशी ली तो 50 नकल और पचिया मिलों छात्र यह पर्चियां पेट में लगे बैल्ट के नीचे से बरामद हुई पचियों पर लिखे शब्द काफी छोटे थे। छात्र अधिक से अधिक मेंटर ले जाने के लिए मेटर को माइक्रोजेरोक्स कराया था। छात्र के पास से कमरे में एक नकल की पर्ची मिली थी जब उसे नकल प्रकरण बनाने के लिए लाया गया और फिर से उसकी जांच की गई तो उसके पास 50 पर्चियां और मिली।

पश्चिम बंगाल में माध्यमिक परीक्षाएं शुरू:-

पश्चिम बंगाल में कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा 7 मार्च, 2022 यानी आज से शुरू हो गई हैं। परीक्षाएं 16 मार्च, 2022 को समाप्त होंगी। पश्चिम बंगाल बोर्ड में इस साल लगभग 6.2 लाख से अधिक लड़कियों और 4.9 लाख लड़कों ने कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा देने के लिए अपना पंजीकरण कराया है। पश्‍च‍िम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड WBBSE Madhyamik Exam 2022 की माध्यमिक कक्षा 10वीं की परीक्षाएं आज से शुरू हो गई हैं। माध्यमिक परीक्षा के मद्देनजर कड़ी सख्ती के निर्देश दिए गये हैं। इस बार 11 लाख से अधिक छात्र-छात्राएं इस बार परीक्षा देंगे।

कोरोना के कारण पिछले साल माध्यमिक परीक्षा नहीं हुई थी। सोमवार को सुबह 11.45 बजे परीक्षा शुरू होगी। कोरोना के बीच सुरक्षित और नकल मुक्त परीक्षाएं संचालित की जा सकें, इसके लिए सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है. नकल रोकने के लिए मालदा, मुर्शिदाबाद, उत्तर दिनाजपुर, कूचबिहार, जलपाईगुड़ी, बीरभूम और दार्जिलिंग जिलों के कुछ ब्लॉकों में 7-9 मार्च, 11 और 12 मार्च और 14-16 मार्च को 1100-1515 बजे मोबाइल इंटरनेट और ब्रॉडबैंड सेवाओं को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया जाएगा। सीएम ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दी हैं।

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE