MP Board Papers 2022 : 13 साल बाद होगी अप्रैल में कक्षा 5वीं और 8वीं की बोर्ड पैटर्न से होगी परीक्षा

13 साल बाद होगी कक्षा 5वीं और 8वीं की बोर्ड पैटर्न से परीक्षा

मध्य प्रदेश में 13 साल बाद फिर से कक्षा 5वी और कक्षा 8वीं की परीक्षा बोर्ड पैटर्न पर होगी। स्कूल शिक्षा विभाग 13 साल बाद पांचवी और आठवीं की बोर्ड परीक्षा शुरू करने जा रहा है। बोर्ड परीक्षा सत्र 2021-22 से होगी। राज्य शिक्षा केंद्र ने कक्षा पांचवी और कक्षा आठवीं की बोर्ड परीक्षा की तैयारियां लगभग पूरी कर ली है। पांचवी और आठवीं की बोर्ड परीक्षा 2022 में अप्रैल महीने में होने की उम्मीद है।

बता दें कि स्कूल शिक्षा विभाग अप्रैल के महीने में बोर्ड परीक्षा कराने की तैयारियों में जुटा है। मध्य प्रदेश के एक लाख स्कूलों में 12 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राएं कक्षा पांचवी कक्षा आठवीं में पढ़ रहे हैं। परीक्षा अप्रैल के महीने में कराने की कोशिश है। 40 फीसदी प्रोजेक्ट आधारित मूल्यांकन होगा तो वहीं 60 फीसदी सैद्धांतिक परीक्षा ली जाएगी।

Join

कोरोना के मामलों के बढ़ने पर वैकल्पिक तैयारियां शुरू-

कोरोना के मामलों के बढ़ने पर वैकल्पिक तैयारियां भी की गई हैं। मामलों के बढ़ने पर अगर परीक्षा नहीं ली जाती है तो बच्चों के घर-घर वर्कशीट भेजकर होम बेस्ड परीक्षा ली जाएगी। वर्कशीट पर लिखने के बाद अभिभावक उसे स्कूल में जमा कराएंगे। माध्यप्रदेश में कक्षा पांचवी और कक्षा आठवीं के विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षा 2007-08 में बंद कर दी गई थी। आरटीई लागू होने के बाद पहली से आठवीं तक वार्षिक मूल्यांकन शुरू किया गया था।

MP Board Papers 2022
MP Board Papers 2022

आरटीई के तहत किसी भी छात्र को फेल नहीं किया जा सकता था। इससे मूल्यांकन में स्कूलों में सभी विद्यार्थियों को पास किया जाता रहा है। इसी के चलते कमजोर छात्र भी पास होने लगे। केंद्र की अनुमति मिलने के बाद मध्यप्रदेश शासन ने 2019 में आरटीई में संशोधन किया। अब 13 साल के लंबे इंतजार के बाद कक्षा 5 और कक्षा आठवीं के विद्यार्थियों की बोर्ड पैटर्न पर वार्षिक परीक्षा आयोजि हो रही है।

आवेदन में सुधार की तारीख

हाल ही में खबर आई थी कि अब कैडिडेट्स साल 2022 की बोर्ड परीक्षाओं के लिए 15 जनवरी 2022 तक आवेदन में सुधार कर सकते हैं। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने छात्रों को एक और मौका दिया है। बता दें पहले इसके लिए 15 दिसंबर आखिरी तारीख थी। एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं के एग्जाम फरवरी 2022 के मध्य में शुरू होने है, जिसके लिए छात्रों के परीक्षा फॉर्म भरे जा चुके हैं। एमपी बोर्ड ने फॉर्म में गलतियों में सुधार के लिए छात्रों को एक और मौका दिया है। पहले 15 दिसंबर तक करेक्शन करने की तारीख थी। अब इसे बोर्ड ने यह तारीख एक महीने और बढ़ाकर 15 जनवरी 2022 कर दी है। इसके बाद आवेदन में किसी तरह का सुधार नहीं होगा। अगर पिछले कुछ साल के आंकड़े देखें तो पता चलता है कि बोर्ड की परीक्षा के लिए आवेदन करने वालों की संख्या लगातार घट रही है। अकेले 12वीं की परीक्षाओं में 21 हजार विद्यार्थियों की कमी देखने को मिली है।

| NMMS Scholarship 2021-22 Full Details

| एमपी राज्य वन सेवा भर्ती – अंतिम तिथि, अप्लाइ

| For Vaccination Certificate – How to get Vaccination Certificate

| स्कूल कॉलेज बंद – आदेश , ओमीक्रॉन का खतरा

10वीं-12वीं की परीक्षा देने वाले बच्चों की संख्या जारी

मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की संख्या जारी कर दी है। बोर्ड के अनुसार परीक्षा में शामिल होने वालों की संख्या इस बार 17 लाख 90 हजार है। यानी की इस बार कुल 17 लाख 90 हजार छात्र छात्राएं 10-12 वी बोर्ड की परीक्षा में शामिल होंगे। ये आंकड़े बीते तीन सालों में सबसे कम हैं, जो चिंता का विषय है।

JOIN WHATSAPP GROUPCLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUPCLICK HERE
PHYSICSHINDI HOMECLICK HERE