दसवीं -बारहवीं की बोर्ड परीक्षा निरस्त हुई तो तिमाही व छमाही के आधार पर बनेगा परिणाम | mp board exam result formula

कोरोना के कारण दो साल से दसवीं व बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं प्रभावित हो रही थीं। लिहाजा, इस साल माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ये परीक्षाएं 17 फरवरी से कराने की तैयारी में है।

उधर, प्रदेश में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। ऐसे में अब फिर सत्र 2021-22 की अगले साल फरवरी में होने वाली मप्र बोर्ड दसवीं – बारहवीं की परीक्षा निरस्त होने की आशंका बन रही है। हालांकि, माशिम ने इसकी भी तैयारी कर ली है। अब तिमाही, छमाही व प्री – बोर्ड के आधार पर परीक्षा का परिणाम बनाया जाएगा। इसके लिए माशिम ने स्कूल प्राचार्याें को 31 दिसंबर तक तिमाही – छमाही और प्री बोर्ड परीक्षा के नंबर ऑनलाइन प्रविष्ट करने के लिए निर्देश दिए हैं।

अगर आप मार्कशीट में करेक्शन कैसे करें इसका पूरा प्रोसेस जानना चाहते है तो यहाँ पर क्लिक करें

तिमाही व छमाही के आधार पर बनेगा परिणाम

बता दें कि मार्च 2020 में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ने लगी थीं। इस कारण प्रदेश मे लाॅकडाउन लगाया गया, जिससे दसवीं – बारहवीं बोर्ड की परीक्षा स्थगित कर दी गई थी। हालांकि बाद में माशिम ने शेष पेपर आयोजित करवा लिए थे। वहीं मार्च 2021 में दसवीं – बारहवीं की वार्षिक परीक्षा नहीं हो पाई। बीते दो साल का अनुभव देखते हुए इस बार मंडल दसवीं – बारहवीं की परीक्षा फरवरी 2022 में आयोजित कर रहा है। माशिम क मानना है कि बीते दो साल से कोरोना मार्च में बढ़ा है, इसलिए फरवरी में परीक्षा संपन्न करने का निर्णय लिया गया है।

mp board exam result formula
mp board exam result formula

इस बार बोर्ड परीक्षा फरवरी में आयोजित की जाएगी। इसकी तैयारी कर ली गई है। अगर कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण परीक्षा निरस्त होती है तो रिजल्ट तैयार करने के लिए तिमाही व छमाही परीक्षा के अंक मांगे जाएंगे।

| Class 12 paper Click Here

| Class 10 paper Click Here

Home Exam क्यों है जरूरी?

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि तीसरी लहर का संकट अभी बरकरार है ऐसे में यदि कोरोना का खतरा कम न हुआ और तेजी से बढ़ता गया तो मुमकिन है कि वर्ष 2021-22 में होने वाली बोर्ड को रद्द कर दिया जाएगा और बोर्ड परीक्षा के अलावा ली गई परीक्षा जैसे त्रैमासिक परीक्षा, अर्द्धवार्षिक परीक्षा, प्री-बोर्ड परीक्षा इत्यादि के आधार पर बोर्ड परीक्षा का परिणाम घोषित किया जाएगा। अतः छात्र इन परीक्षाओं को हल्के में न लें और इसे बोर्ड परीक्षा की दृष्टि से इसमें बेहतर से बेहतर अंक प्राप्त करें तभी वह बोर्ड परीक्षा में अच्छा परिणाम ला सकेंगे।

दोस्तों म.प्र. लोक शिक्षण संचालनालय ने बोर्ड परीक्षा को रद्द करने के मामले में किसी भी तरह का कोई भी लैटर (Official Notification) जारी नहीं किया है किन्तु ध्यान देने योग्य बात यह है कि यदि भविष्य में कोरोना का संकट बढ़ गया और लाॅकडाउन की स्थिति आ गई तो प्रशासन बोर्ड परीक्षा न लेकर होम एग्ज़ाम जैसे त्रैमासिक, अध्र्द-वार्षिक. प्री-बोर्ड परीक्षा की दृष्टि से आपका परिणाम घोषित करे।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए आप लगातार physicshindi.com वेबसाईट पर विज़िट करते रहिए, तथा अपने दोस्तों के साथ शेयर करना बिल्कुल मत भूलिएगा।