MP Board Exam News Today : एमपी बोर्ड परीक्षाएं ऑफलाइन ली गईं, तो वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट होगा अनिवार्य

आयोग ने लिखा पत्र, बंद किए जाएं आठवीं कक्षा तक के स्कूल

मप्र बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आठवीं कक्षा तक के स्कूलों को बंद करने की अनुशंसा की है। आयोग सदस्य ब्रजेश चौहान ने आयुक्त राज्य शिक्षा केंद्र को इस संबंध में पत्र लिखा है पत्र में आयोग सदस्य ने लिखा कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर में बच्चे ज्यादा संक्रमित हो रहे हैं, साथ ही बच्चों में खासकर 0-15 साल के बच्चों में एंटीबॉडी नहीं होने के कारण संक्रमण का खतरा कहीं ज्यादा प्रभावी दिख रहा है। इस समय कक्षा 1-8 तक और 8-12 तक की क्लासेस 50 फीसद क्षमता के साथ स्कूलों में संचालित हो रही हैं ।

एमपी बोर्ड परीक्षाएं ऑफलाइन ली गईं, तो वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट होगा अनिवार्य

बोर्ड स्तर पर चल रही तैयारी, परीक्षाओं तक वैक्सीनेशन पूरा होने की उम्मीद

एमपी बोर्ड की 10वीं व 12वीं की परीक्षाएं यदि पूर्व निर्धारित समय में ऑफलाइन होती हैं, तो इसमें बच्चों का वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र अनिवार्य किया जा सकता है।

Join
MP Board exam news today
MP Board exam news today

सूत्रों के अनुसार, बोर्ड में इसकी तैयारी चल रही है। ज्ञात हो कि 15 से 18 वर्ष के बच्चों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। मंडल का मानना है कि इस अभियान में 10वीं और 12वीं में शामिल होने वाले बच्चे वैक्सीनेटेड हो जाएंगे। 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं अगले माह 17 फरवरी से ऑफलाइन मोड़ पर होनी है। हालांकि कोरोना के बढ़ते प्रकरणों के बीच परीक्षा को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। हालांकि सूत्रों का कहना है कि चूंकि 15 से 18 वर्ष के बच्चे ही 10वीं और 12वीं के एग्जाम में शामिल होते हैं और इस उम्र के बच्चों का वैक्सीनेशन हो रहा है। ऐसे में फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षा कराई जाएगी। साथ ही वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र को अनिवार्य करने की चर्चा की जा रही है। हालांकि अभी इस पर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है।

पैरेंट्स को दी समझाइश

सरकारी स्कूलों में 10वीं और 12वीं की परीक्षा के बाद 9वीं और 11वीं की वार्षिक परीक्षाएं मार्च में होनी है। पैरेंट्स को बच्चों की गतिविधियों और परीक्षाओं के अंकों की जानकारी देने के साथ वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने पैरेंट्स-टीचर मीटिंग भी बुलाई गई थी। कहा गया है कि 15 से 18 वर्ष के बीच उम्र के बच्चों की टीका लगवाए।

नाम से कोविड़ सार्टिफिकेट डाउनलोड करने का तरीका

कोविड सार्टिफिकेट लेने के तीन तरीके

मोबाईल नंबर से कोविड सर्टिफिकेट डाउनलोड करने का तरीका –

हमारा प्रयास है कि स्कूलों में 15 से 18 वर्ष के बच्चों का शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन हो जाए। इसके लिए शिक्षकों द्वारा पैरेंट्स को प्रेरित किया जा रहा है। परीक्षा में वैक्सीनेशन अनिवार्य होगा या नहीं, इसका निर्णय उच्च स्तर पर होगा। नितिन सक्सेना, डीईओ, भोपाल