एमपी बोर्ड परीक्षा में नक़ल करने पर होगी कार्यवाही | Mp Board Exam news on cheating

प्यारे छात्रों यदि आप एमपी बोर्ड परीक्षा 2022 के छात्र हो और नकल करने के बारे में सोच रहे हो तो आप सही जगह आए हो, क्योंकि इसे पढ़ने के बाद आप नकल करने के प्लेन को कैंसिल कर दोगे और ईमानदारी से पढ़ना शुरू कर दोगे। इस बार मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने परीक्षा केंद्र में विद्यार्थियों द्वारा की जाने वाली नकल को लेकर जिला कलेक्टर, परीक्षा केंद्राध्यक्ष या सहायक केंद्राध्यक्ष को आदेश जारी किया है। साथ ही नकल पकड़े जाने पर उनके ऊपर भी सख्त कार्यवाही की जा सकती है। आप नीचे पढ़ सकते हैं कि नकल करने पर मापदण्डों के अनुसार क्या क्या कार्यवाही की जा सकती है।

एमपी बोर्ड परीक्षा में नक़ल करने पर होगी कार्यवाही

माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश भोपाल द्वारा वर्ष 2022 की परीक्षाओं में नकल प्रकरणों पर की जाने वाली कार्यवाही हेतु मापदण्ड जारी किये गये है। जिसमें कि नकल करते पाये जाने पर, नकल सामग्री पाये जाने पर चिट निकलना.उत्तरपुस्तिका बदलना/फाडना या उत्तरपुस्तिका लेकर भाग जाना.नकल फार्म पर हस्ताक्षर करने से मना करना.एवं अन्य से लिखित सहायता लेना.रिकार्डिंग तथा अन्य उपकरण जैसे मुद्रित संचार मोबईल, स्र्माटवाॅच, ब्लू टूथ, चिटिंग पेन आदि प्राप्त होने पर उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन नही किया जावेगा।

अनुचित साधन या नक़ल का स्वरुप

छात्र द्वारा एक विषय या एक से अधिक विषयों में नकल करते पाये जाने पर अथवा केन्द्राघ्यक्ष से दुव्र्यवहार धमकी या मारपीट करना अपशब्द बोलना.छात्र के स्थान पर किसी अन्य फर्जी छात्र द्वारा परीक्षा देना या किसी अन्य से सहायता लेने पर छात्र की सम्पूर्ण विषयों की परीक्षा एवं परीक्षाफल निरस्त कर दिया जायेगा एवं नकल प्रकरण प्राप्त होने पर उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन नही किया जावेगा।

Mp Board Exam news on cheating
Mp Board Exam news on cheating

 

किसी परीक्षा केन्द्र में सामूहिक नकल करते पाये जाने पर कलेक्टर जिला शिक्षा अधिकारी केन्द्राध्यक्ष निरीक्षणदल से सामूहिक नकल प्रमाणित होने पर सम्पूर्ण विषयों की परीक्षा एवं परीक्षाफल निरस्त किया जायेगा।

केंद्र पर सामूहिक नक़ल करने पर की जाएगी कार्यवाही

केन्द्राघ्यक्ष पर्यवेक्षकों एवं परीक्षा कार्य में संलग्न कर्मचारियो द्वारा लापरवाही बरतने या सामूहिक नकल में सहयोग करते पाये जाने पर उन्हें मंडल के परीक्षा कार्यो से आगामी 5 बर्ष के लिए वंचित किया जाना और उनके विरूध्द अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु संबंधित प्रशासकीय विभाग को लिखा जायेगा।

मूल्यांकन के दौरान पाई गई सामूहिक नकल प्रकरणों पर की जायेगी कार्यवाही

  • मूल्यांकन केन्द्र पर उत्तरपुस्तिका की जाॅच के दौरान परीक्षा केन्द्र की कम से कम 10 उत्तरपुस्तिकाओं में हल किये गयें एक तिहाई उत्तर एक ही भाषा शैली में. एक ही तरीके से लिखे गये हो (भले ही प्रश्नपत्रों के क्रम बदल कर किये गये हो) सामूहिक नकल श्रेणी में रखा जायेगा। ऐसे छात्रों की अन्य सभी बिषयों की उत्तरपुस्तिकाओ की जाॅच की जावेगी। सामूहिक नकल सिध्द पाई जाने पर सम्पूर्ण बिषयों की परीक्षा एवं परीक्षाफल निरस्त किया जायेगा।
  • यदि एक उत्तरपुस्तिका में एक से अधिक हस्तलिपि में प्रश्न हल किये गये हो तो व्यक्तिगत नकल प्रकरण श्रेणी में आयेगा तथा सम्पूर्ण बिषयों की परीक्षा एवं परीक्षाफल निरस्त किया जायेगा। साथ ही उस परीक्षा केन्द्र के केन्द्राध्यक्ष/सहायक केन्द्राध्यक्ष तथा उस कक्ष में तैनात पर्यवेक्षक की भी जाॅच उपरान्त मंडल के परीक्षा कार्यो से आगामी 5 बर्ष के लिए वंचित किया जााएगा और उनके विरूध अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु प्रशासकीय विभाग को लिखा जाएगा।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE

Leave a Comment