परीक्षा केंद्र में छात्रों के लिए स्पेशल व्यवस्था | Mp board exam center special facility for students

मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिम) की दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षा 17 फरवरी से शुरू हो रही है। परीक्षा के लिए प्रश्नपत्र सोमवार से थानों में पहुंचना शुरू होंगे। राजधानी में कुल 104 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। वहीं माशिमं ने परीक्षा में नकल रोकने के लिए संयुक्त संचालक जिला शिक्षा अधिकारी की तीन-तीन टीमें औचक निरीक्षण करने के लिए बनाई हैं। इसके अलावा कलेक्टर की टीम भी परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण करेगी। साथ ही माशिमं ने परीक्षा को लेकर न्यायालय में केविएट दायर कर दी है।

परीक्षा केंद्र में छात्रों के लिए स्पेशल व्यवस्था

भोपाल जिले में प्रश्न पत्र व गोपनीय सामग्री वितरण के लिए माडल हायर सेकंडरी स्कूल टीटीनगर (मंडल का समन्वयक केंद्र) से सोमवार को शुरू होगा। परीक्षा केंद्राध्यक्ष व सहायक केंद्राध्यक्षों ने प्रश्न पत्र व गोपनीय सामग्री लेकर पुलिस के साये में रवाना होंगे। केंद्रों के नजदीकी थानों में दो दिन में प्रश्न व पत्र व परीक्षा से जुड़ी गोपनीय सामग्री पहुंचाई जाएगी। माशिमं ने निर्देश दिए हैं कि सभी परीक्षा केंद्रों में फर्नीचर की पुख्ता व्यवस्था की जाए, ताकि एक डेस्क व वेंच पर एक ही विद्यार्थी को बैठाया जा सके।

बोर्ड परीक्षा में एक डेस्क पर एक ही विद्यार्थी को बैठाया जाएगा

जिला शिक्षा अधिकारी नितिन सक्सेना द्वारा राजधानी के केंद्रों में नकल रोकने के लिए दोनों परीक्षाओं के मुख्य प्रश्न पत्रों के दौरान संवेदनशील व संदेहास्पद केंद्रों पर एक अधिकारी की स्थायी रूप से ड्यूटी लगाई जा रही है। नक्ल या कोई गड़बड़ी होने पर उक्त अधिकारी को तत्काल सूचना देनी होगी।

  • माशिमं ने जिला शिक्षा अधिकारियों को जारी किए दिशा-निर्देश
  • राजधानी में कुल 104 परीक्षा केंद्र बनाए गए
Mp board exam center special facility for students
Mp board exam center special facility for students

सीडब्ल्यूएसएन छात्रों को परीक्षा में मिलेगी स्पेशल व्यवस्था

माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की परीक्षाओं में दिव्यांग छात्रों के अलावा अब चाइल्ड विथ स्पेशल नीड्स शारीरिक रूप से विकलांग विशेष आवश्यकता वाले छात्रों को भी स्पेशल ट्रीटमेंट मिलेगा। मंडल ने पहली बार इस तरह की विशेष सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया है बता दें कि अब तक केवल दृष्टिहीन छात्रों को लाभ दिया जाता था। किन्तु वर्ष 2021 22 में हाईस्कूल एवं हायर सेकंडरी परीक्षा में सम्मिलित होने वाले इस तरह के छात्र छात्राओं को लाभ दिया जाएगा इस संबंध में माध्यमिक शिक्षा मंडल ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को अवगत कराया है।

यह मिलेंगी सुविधाएं

बताया गया अब मानसिक विकलांग एवं हाथ की हड्डी टूट जाने अथवा हाथ की खराबी के कारण लिखने में असमर्थ ऐसे छात्रों को परीक्षा के दौरान सुविधा प्रदान की जाएगी। इसमें लेखन विषय चयन के अलावा, परीक्षा में अतिरिक्त समय, शुल्क में छूट के साथ ही कंप्यूटर टाइपराइटर चयन की सुविधा भी प्रदान करने का निर्णय लिया गया है।

यह कैटेगरी होगी निर्धारित

जानकारी के अनुसार शारीरिक रूप से विकलांग में सेरीब्रल पालसी, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, एसिड अटैक विक्टिम, विजुअल इंपेयरमेंट, ब्लाइंडनेस, लो विजन, लोको मोटर डिसेबिलिटी, हियरिंग इंपेयरमेंट, स्पीच एंड लैंग्वेज शामिल है। इसी तरह इंटेलेक्चुअल डिसेबिलिटी में स्पेसिफि लर्निंग डिसेबिलिटी, ऑटिज्म, स्पेक्ट्रम, डिसऑर्डर एवं मेंटल इलनेस, क्रॉनिक न्यूरोलॉजिकल, स्किशन डिसीज, ब्लड डिसऑर्डर, हीमोफीलिया, थैलेसीमिया जैसी बीमारी को शामिल किया गया है।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE