एमपी बोर्ड परीक्षाओं पर बड़ी खबर : शिक्षा मंत्री का बयान, जानें कब होगी बोर्ड परीक्षा

एमपी बोर्ड के नये सचिव श्रीकांत बनोठ ने राज एक्सप्रेस से चर्चा में कहा – करीब 20 लाख विद्यार्थियों की कोविड प्रोटोकॉल के तरह होंगी परीक्षाएं-

कोरोना की तीसरी लहर के बीच माध्यमिक शिक्षा मंडल घोषित टाइम टेबल के अनुसार परीक्षाओं की युद्ध स्तर पर तैयारियां कर रहा है। प्रदेश की धरती पर तांडव मचा रही इस बीमारी की चुनौतियां झेलते बोर्ड का कहना है कि हर कार्य नियम से हो रहा है। शासन परीक्षा प्रणाली में अगर बदलाव करता है, तो फिर उसके अनुसार कार्य होगा। राज एक्सप्रेस के साथ परीक्षा से जुड़े अनेक पहलुओं पर मंडल सचिव द्वारा बात की गई।

mp board exam breaking news 2022
mp board exam breaking news 2022

उन्होंने कहा कि पूर्व से घोषित टाइम टेबल के अनुसार फरवरी में दसवीं एवं बारहवीं की परीक्षाएं संपादित करवाई जाएंगी। बारहवीं की परीक्षा 17 जबकि दसवीं की परीक्षाएं 18 फरवरी से प्रारंभ होंगी। परीक्षाओं में इन दोनों ही कक्षाओं के करीब 20 लाख परीक्षार्थी सम्मिलत हो रहे हैं। इसके लिए तकरीबन चार हजार परीक्षा केंद्र निर्धारित किए गए हैं। जो शेड्यूल है, उसके अनुसार ही हमारी परीक्षाओं की तैयारियां चल रही हैं। इसके लिए जिलों में लगातार कलेक्टरों से भी संवाद चल रहा है।

Read More- एमपी बोर्ड ने जारी कीये ऐड्मिट कार्ड्स – जानें पूरी खबर

ताकि परीक्षाओं की तैयारियों से जुड़े हर बिंदु की जानकारी जुटाई जा सके। केंद्रों के बारे में चर्चा हो रही है। क्योंकि अभी अगर यहां कोई समस्या होगी तो उसमें सुधार भी किया जा सकता है। परीक्षा संबंधी कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। हां निकट भविष्य में क्या परिस्थतियां बनती हैं। इस विषय में वे कुछ नहीं कह सकते हैं। हालातों को देखते हुए यदि शासन नवीन दिशा निर्देश जारी करता है तो उसके अनुसार परीक्षाएं प्रारंभ करवाई जाएंगी।

प्रोटोकॉल के तहत होंगी परीक्षाएं

मंडल सचिव श्री बनोठ ने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर विद्यार्थियों की स्वास्थ्य सुरक्षा का पूरा ख्याल रखा जाएगा। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत प्रत्येक विद्यार्थी के लिए मास्क अनिवार्य किया गया है। परीक्षा केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए पहले से ही कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। हर केंद्र पर सैनेटाईजेशन का कार्य नियिमत रूप से होगा। ताकि कोरोना के विषाणुओं को पनपने से रोका जा सके। उन्होंने कहा कि परीक्षाओं के दौरान प्रत्येक विद्यार्थी के स्वास्थ्य की समुचित निगरानी होगी।

हर विद्यार्थी की समस्या का समाधान

मंडल सचिव श्रीकांत बनोठ का कहना है कि परीक्षाओं के दौरान तनाव से जूझते विद्यार्थियों की हर समस्या का समाधान करने के लिए हेल्पलाइन को सशक्त किया गया है। हेल्पलाइन में विषय विशेषज्ञों को बैठाया गया है। जहां पर विद्यार्थियों की हर विषय संबंधी कठिनाईयों को दूर किया जा रहा है। हेल्पलाइन में बैठे कांउसलर्स द्वारा विद्यार्थियों को यही सुझाव दिए जा रहे हैं कि वह इस समय पूरा ध्यान पढ़ाई में लगाएं। इसके साथ ही वह अपने स्वास्थ्य का भी ख्याल रखें।

एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए आप physicshindi.com पर विज़िट करते रहिए।