किसी भी छात्र को परीक्षा से वंचित नहीं किया जा सकता : SDM पांडे ने दिया आदेश

किसी भी छात्र को परीक्षा से वंचित नहीं किया जा सकता : SDM पांडे ने दिया आदेश

एसडीएम ने दिए निजी स्कूल संचालकों को निर्देश

सिहोरा:- स्कूल संचालकों द्वारा फीस जमा न करने पर परीक्षा से वंचित करने के तुगलकी फरमान की खबर प्रकाशन के बाद स्थानीय प्रशासन ने तहसील कार्यालय सिहोरा में निजी स्कूल संचालकों की बैठक आयोजित कर उचित दिशा निर्देश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि वर्तमान परिवेश में जब शिक्षा का व्यवसायीकरण पूरी तरह से हो चुका है ऐसे में कोरोना से आर्थिक तौर पर प्रभावित हुए लोगों के सामने स्कूल की फीस बड़ी मुसीबत के रूप में सामने आ गई है। अभिवावकों का आरोप था कि निजी स्कूल संचालकों द्वारा फीस जमा न करने के कारण परीक्षा नहीं देने दी जा रही है।

वहीं छात्र छात्राओं को परीक्षा कक्ष के बाहर खड़ा रखकर उन्हें मानसिक एवं शारीरिक यातनाएं दी जा रही हैं। अभिवावकों का यह भी आरोप है- इस कोरोना काल मे स्कूल में न ही पढ़ाई हुई है और न ही हो रही है। तो 10 से 5 मिनट के ऑडियो मैसेज के नाम पर संचालित ऑनलाइन क्लास की वह पूरी फीस क्यो दें।

Join

  • “बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”
  • MP Board Blueprint 2022 PDF Download Click Here
  • विकासखंड सिहोरा के अधीनस्थ संचालित समस्त अशासकीय विद्यालयों के प्रबंधन एवं प्राचार्यों की बैठक अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सिहोरा आशीष पांडे की अध्यक्षता में तहसील कार्यालय में आयोजित की गई। जिसमें विकास खंड शिक्षा अधिकारी अशोक उपाध्याय और बीआरसीसी पीएल रैदास और बी एसी बृजेश श्रीवास्तव उपस्थित थे। बैठक में लगभग 40 विद्यालयों के प्राचार्य प्रधानाध्यापक उपस्थित थे। बैठक में विभिन्न विद्यालयों से प्राप्त शिकायतों के संबंध में चर्चा की गई बच्चों के नामांकन , विद्यालय की अधोसंरचना और विद्यालय में आंतरिक परिवाद समिति के गठन तथा बच्चों को अर्धवार्षिक परीक्षा में शुल्क न देने की स्थिति में वंचित ना करने हेतु निर्देशित किया गया।

    MP Board Exam All Students Attempt 2022
    MP Board Exam All Students Attempt 2022

    विद्यालय से संबंधित शिकायतों को अपने स्तर पर पालकों से चर्चा कर निराकृत करें अन्यथा गंभीर शिकायत प्राप्त होने की स्थिति पर विद्यालय की मान्यता समाप्त करने की कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी। मारथोमा ग्राम ज्योति इंग्लिश मीडियम स्कूल खितौला सिहोरा की प्राप्त में शिकायत के संबंध में चर्चा की गई तो बैठक में इस विद्यालय के प्राचार्य उपस्थित नहीं थे बल्कि उपस्थित कार्यालय सहायक के द्वारा दिए गए 3 जबाब से एस डी एम नाराज हो गए और उसे बैठक से बाहर कर दिया। मंडी मार्ग पर स्थित नगर के मारथोमा ग्राम ज्योति स्कूल पर हमेशा ही अभिभावकों के प्रति तानाशाही पूर्णं रवैया अपनाने का आरोप लगता रहता है।

    एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए आप हमारी वेबसाईट physicshindi.com पर रेगुलर विज़िट करते रहिए तथा इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।