MP Board Exam 2022 – मूल्यांकन पद्धति के लिए जारी निर्देश

मध्य प्रदेश कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं फरवरी और मार्च 2020 में आयोजित की जाएगी। मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मैट्रिक और इंटरमीडिएट के एडमिट कार्ड और डेटशीट भी जारी कर दिया। छात्रों के पास बोर्ड परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ समय बचा है इस समय की गई तैयारी भी अच्छे मार्क्स के लिए बेहद महत्वपूर्ण है ऐसे समय में अक्सर छात्र दल जल्दबाजी या हड़बड़ाहट में अपने फोकस को बैठते हैं। एमपी बोर्ड दसवीं बोर्ड परीक्षा 18 फरवरी से 10 मार्च 2022 तक चलेगी जबकि 12वीं बोर्ड परीक्षा 17 फरवरी से 21 मार्च 2022 तक आयोजित की जाएगी परीक्षा सुबह 10:00 बजे से 1:00 बजे तक होगी।

प्रैक्टिकल का टाइम टेबल भी जारी हो चुका है 10वीं 12वीं की बोर्ड में रेगुलर स्टूडेंट के लिए प्रैक्टिकल एग्जाम 12 फरवरी से 25 फरवरी 2022 के बीच होंगी और प्राइवेट स्टूडेंट सेल्फ स्टडी करने वाले स्टूडेंट के प्रैक्टिकल एग्जाम 17 फरवरी से होकर 20 मार्च 2022 तक चलेंगे स्टूडेंट को एग्जाम से पहले परीक्षा केंद्र अध्यक्ष को जानकारी देनी होगी। और जैसे की बोर्ड परीक्षा जल्दी हो रही है तो रिजल्ट भी जल्दी आएंगे लगभग अप्रैल-मई तक रिजल्ट आने की संभावना है।

बोर्ड के द्वारा जारी निर्देश-

फरवरी-मार्च 2022 में आयोजित होने वाली मण्डल की कक्षा 10वीं एवं 12वीं की परीक्षाओं में लगभग 20 लाख परीक्षार्थी शामिल होना संभावित है जिनकी उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन समय सीमा में किया जाना है। उक्त कार्य अत्यन्त महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील स्वरूप का है। उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन हेतु 52 जिला मुख्यालयों के मूल्यांकन केन्द्रों पर हाईस्कूल परीक्षा के लिये लगभग 14000 एवं हा. से. परीक्षा के लिये 8000 परीक्षकों की आवश्यकता होगी।

मूल्यांकनकर्ताओं के चयन हेतु निम्नानुसार मापदण्ड निर्धारित किये गये है:-

(i) यथा संभव पांच वर्ष एवं कम से कम तीन वर्ष से अध्यापन कार्य कर रहे अनुभवी शिक्षकों का ही चयन किया जाये।

(ii) उच्चतर माध्यमिक शिक्षक एवं माध्यमिक शिक्षक संवर्ग के शिक्षक जो कम से कम निरंतर तीन वर्ष से अध्यापन कार्य कर रहे हो उनकी सेवायें भी परीक्षकों के रूप में ली जा सकती है।

(iii) ऐसे सहायक शिक्षक जो स्नातक एवं स्नातकोत्तर हो एवं निरंतर तीन वर्षों से कक्षा 10वीं एवं 12वीं में अध्यापन कार्य कर रहे हो को भी परीक्षकों के रूप में नियुक्त किया जा सकता है।

(iv) हाईस्कूल परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं में परीक्षकों के लिये स्नातक एवं हा.से. परीक्षा की उप के मूल्यांकन हेतु परीक्षकों को संबंधित विषय में स्नातकोत्तर होना अनिवार्य होगा।

(v) पूर्व में परीक्षकों के रूप में कर्तव्य निर्वहन में कोई लापरवाही नहीं की गई हो, अथवा उक्त कार्य से प्रतिबंधित नहीं किया गया हो।

(vi) अशासकीय शिक्षण संस्थाओं के उन शिक्षकों को परीक्षक के रूप में चयनित किया जाये जिन्होंने संस्था में लगातार यथा संभव पांच वर्ष कम से कम तीन वर्ष तक संतोष जनक कार्य किया हो इस आशय का अध्यापन प्रमाण पत्र प्राप्त करने के उपरान्त एवं संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी एवं प्राचार्य समन्वयक संस्था द्वारा अनुभव प्रमाण पत्र की जांचोपरान्त अनुभव प्रमाण के आधार पर परीक्षक नियुक्त किया जा सकता है।

(vii) उपरोक्त मापदण्ड सैद्धांतिक / प्रायोगिक परीक्षा के लिये समान रूप से लागू होंगे।

MP Board Exam 2022 copy checking news
MP Board Exam 2022 copy checking news

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE

Leave a Comment