परीक्षा केन्द्र से कापी घर ले जाने की जांच को टीम गठित।

पत्रिका की खबर पर संज्ञान केन्द्राध्यक्ष ने डीइओ को किया गुमराह:- अखबार में खबर प्रकाशित लेते हुए जिला शिक्षाधिकारी संच्चिदानंद पांडेय ने मामल की जांच के लिए पांच सदस्यीय टीम गठित की है, जो परीक्षार्थी द्वारा कापी घर ले जोने की जांच में जुट गई है। गौरतलब है कि 22 फरवारी को एमपी बोर्ड 10वीं गणित विषय का पेपर था। सिंधु स्कूल परीक्षा केन्द्र में परीक्षा दे रहा एक परीक्षार्थी परीक्षा समाप्त होने पर पेपर जमाकर कांपी अपने साथ घर ले गया था। पर्यवेक्षकों को इसकी जानकारी तब लगी जब गिनती में कम निकली। केन्द्राध्यक्ष ने परीक्षार्थी के घर में संपर्क कर दो घंटे बाद कापी घर से मगांकर जाम कराई थी। होने के बाद जिला शिक्षाधिकारी ने सिंधी स्कूल परीक्षा केन्द्र की केन्द्राध्यक्ष से मामले की जानकारी तलब की थी।

लेकिन कार्रवाई से बचने उन्होंने यह कहते हुए घटना को छिपा लिया था कि कापी परीक्षा कक्ष में ही अलमारी के पीछे गिर गई थी, जिसे कुछ समय में ही ढूंढ लिया गया था। यह हुआ था घटना क्रमः 22 फरवरी को गणित की परीक्षा देने के बाद एक परीक्षार्थी कापी अपने साथ घर ले गया। पर्यवेक्षकों ने जब कापियों की गिनती की तो एक कांपी कम निकली। इससे परीक्षा केन्द्र में हड़कंप मच गया। आनन फानन में किस रोलनंबर की कांपी मिस है उसकी जानकारी लेकर परीक्षार्थी के घर का पता जानने के लिए केन्द्राध्यक्ष ने कन्या स्कूल धवारी के प्रभारी प्राचार्य से संपर्कसाधा। उन्होंने परीक्षार्थी के घर का पता केन्द्राध्यक्ष को दिया था। वहीं इसकी सूचना मिलते ही धवारी निवासी परीक्षार्थी लगभग दो घंटे बाद कॉपी लेकर परीक्षा केन्द्र पहुंची और कापी जमा कर दी।

सीसीटीवी से खुलेगी पोलः-

विभागीय सूत्रों ने मिली जानकारी के अनुसार इस मामले की जांच के लिए बनाई गई टीम को जांच में केन्द्राध्यक्ष व पर्यवेक्षकों से कोई मदद नहीं मिली। ऐसे में घटना का खुलासा करने परीक्षा केन्द्र में लगे सीसीटीवी के फुटेज की जांच कराई जा रही है। राजनीति के पेपर में पांच नकलची पकड़े: जिले में चल रही एमपी बोर्ड की परीक्षा में शुक्रवार को 12वीं के राजनीति शास्त्र विषय की परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा के दौरान उड़नदस्ता दल ने मझगवां उत्कृष्ट विद्यालय परीक्षा केन्द्र में नकल करते चार परीक्षार्थियों को पकड़ा। बगहा स्थित परीक्षा केन्द्र में एक नकली पकड़ा गया। जिन पर नगर प्रकरण दर्ज किया गया। रीवा रोड़ स्थित सिंधु स्कूल परीक्षा केन्द्र में परीक्षा दे रहे 10वीं के एक परीक्षार्थी द्वारा परीक्षा समाप्त होने पर कांपी घर ले जोने के मामले में केन्द्राध्यक्ष एवं कक्ष में ड्यूटी पर तैनात पर्यवेक्षण की गर्दन फंस गई है। पत्रिका  की खबर पर डीइओ ने लिया संज्ञान, बैठाई जांच।

MP Board Copy cheking 2022
MP Board Copy cheking 2022

यह टीम कर रही जांच:-

परीक्षा केन्द्र से कांपी घर ले जाने की जांच के लिए डीइओ ने उत्कृष्ट स्कूल व्यंकट क्रमांक एक के प्राचार्य सुशील कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व पांच सदस्यीय टीम गठित की है जिसमें देवेन्द्र सिंह रजावत, चन्द्र शेखर मिश्रा तथा महिला पदाधिकारियों को शामिल किया है गया है। मूल्यांकन प्रक्रिया मार्च के पहले हफ्ते से शुरू हो सकती है. बता दें कि मूल्यांकन केंद्रों पर मोबाइल प्रतिबंधित होंगे एवं केंद्रों पर धारा 144 भी लागू की जाएगी. तकरीबन 30000 टीचर छात्रों की कॉपी को चेक करेंगे जिसके बाद अंक बोर्ड को सौंपे जाएंगे। मूल्यांकन प्रक्रिया सुबह 9:30 बजे से शुरू होगी एवं प्रतिदिन एक शिक्षक तकरीबन 30 से 45 कॉपियों को चेक करेंगे. एक बार केंद्र के अंदर प्रवेश करने के बाद शिक्षकों को बाहर नहीं जाने दिया जाएगा।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

रोजाना टेस्ट देने के लिए यहाँ पर क्लिक करें

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE