MP Board 2022 Results kaise banega : अगर प्री बोर्ड परीक्षा का आयोजन नहीं हुआ तो कैसे बनेगा रिजल्ट

बोर्ड का परिणाम वैकल्पिक रूप से बनाने की तैयारी शुरू

भोपाल : माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिम) ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए 10वीं और 12वीं की मुख्य परीक्षा का रिजल्ट वैकल्पिक रूप से बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए मंडल से संबंद्धता प्राप्त सभी स्कूलों में अध्ययरत छात्रों का आनलाइन डाटा मंगा गया है। मंडल ने शैक्षणिक सत्र 2021- 22 की त्रैमासिक, छमाही, प्री-बोर्ड एवं मुख्य परीक्षा के अंकों की प्रविष्टि की तारीख तय कर दी है। यदि ओमिक्रोन के मामले बढ़ते हैं तो त्रैमासिक, छमाही, प्री-बोर्ड के अंकों के आधार पर मुख्य परीक्षा का रिजल्ट जारी होगा।

मंडल से प्राप्त जानकारी के अनुसार नौवीं और 10वीं के छात्रों के अंक एमपी आनलाइन के जरिए दर्ज कराने के लिए 31 दिसंबर तक का समय निर्धारित किया गया एल, 11वीं और 12वीं के छात्रों के अंक 15 जनवरी तक अपलोड करने होंगे। 11वीं की प्रविष्टि के लिए शाला में विगत वर्ष में अध्ययनरत छात्रों की सूची आनलाइन उपलब्ध कराने को कहा गया है। इसमें ऐसे छात्र जो शाला छोड़कर चले गए हैं उनके नाम सूची से अलग करने होंगे। इसके बाद नवीन प्रवेशित छात्रों को नामांकन क्रमांक अनुसार सूची में जोड़ना है। सूची में नाम जोड़ने के बाद सभी छात्रों के विषय का चयन करना है। इसके बाद ही आनलाइन माध्यम से छात्रवार अंकों की प्रविष्टि करनी है।

कोरोना के केस बढ़े तो त्रै मासिक, छमाही और प्री बोर्ड के आधार पर घोषित होगा परिणाम

अब सबसे बड़ी समस्या ये है की आपकी प्री बोर्ड परीक्षा होगी या नहीं क्योंकि प्री बोर्ड परीक्षा 2022 को लेकर एमपी बोर्ड भोपाल की तरफ से कोई भी आदेश जारी नहीं किए गए है और नही कोई सूचना जारी की गई है जिसको देखते हुए अब ऐसा माना जा रहा है की इस साल लगभग प्री बोर्ड परीक्षा 2022 का आयोजन मुस्किल है। सभी शासकीय स्कूलों के प्रधानाचार्य असमंजस की स्थिति में दिखाई दे रहे हैं तथा प्री बोर्ड परीक्षाओं के लिए बोर्ड के आदेश का इंतजार कर रहे है।

अगर प्री बोर्ड परीक्षा का आयोजन नहीं हुआ तो कैसे बनेगा रिजल्ट

यह बात विचार करने योग्य है कि अगर इस साल प्री बोर्ड परीक्षा का आयोजन नहीं हो पाता है तो रिजल्ट किस तरह से तैयार किया जाएगा तो इसके लिए बोर्ड ने पहले से ही एक आदेश कराई किया था जिसके तहत अगर बोर्ड परीक्षा 2022 का आयोजन नही हो पाता है तो तिमाही परीक्षा, अर्धवार्षिक परीक्षा तथा प्री बोर्ड परीक्षा के अंकों के आधार पर रिजल्ट तैयार किया जाएगा, लेकिन अब अगर प्री बोर्ड परीक्षा का ही आयोजन नही हो पाएगा तो फिर फाइनल रिजल्ट तिमाही परीक्षा तथा अर्धवार्षिक परीक्षा के आधार पर बनाए जाने की संभावना है।

जिसके तहत कुछ छात्रों को तो फायदा होगा लेकिन कुछ छात्रों को नुकसान होने की संभावना होगी।

एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए गूगल पर सर्च करें physicshindi.com तथा अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करें ।