MPBSE 10th-हिंदी के पेपर में 3 प्रश्न गलत आए, छात्रों को बोनस मिलना चाहिए।

 

अतिथि शिक्षक इमरान गोरी ने बताया कि हाई स्कूल परीक्षा 2022 अर्थात कक्षा 10th का दिनाँक 18/2022 को हिन्दी का प्रश्न पत्र था। जिसके प्रश्न क्रमांक 16 और 17 आउट ऑफ ब्लू प्रिंट हैं। प्रश्न 17 में संधि और समास मे अन्तर छ गया है, जबकि ब्लू प्रिंट से संधि को हटा दिया गया था। संधि कहीं नहीं थी। इसका भी बोनस मिला चाहिए।ब्लू प्रिंट के भाषा बोध खंड में संधि शामिल नहीं किया गया था। MPBSE के कक्षा 10th विषय हिन्दी हेतु जारी ब्लू प्रिंट के काव्य बोध खंड में जो अलंकार शामिल किए थे वह अनुप्रास, रूपक, उपमा, उत्प्रेक्षा, मानवीकरण, पुनरुक्ति प्रकाश था। साथ ही जो छंद शामिल किए थे उसमे सिर्फ मात्रिक छंद – दोहा और चौपाई थे लेकिन पेपर मे प्रश्न 16 मे अतिशयोक्ति अलंकार और छंद गीतिका पूछा गया है, जो आउट ऑफ ब्लूप्रिंट है।

इसका बोनस परीक्षार्थियों को मिलना चाहिए, प्रश्न 4 के रिक्त स्थान में 7वें नंबर पर सौरठा छंद से पूछा गया जो कि ब्लू प्रिंट, पाठ्यक्रम में  शामिल नहीं किया गया था। 3 प्रश्न गलत होने के कारण छात्रों को प्रश्न को हल करने में परेशानी हुई और प्रश्न ही गलत है तो आंसर में क्या लिखेंगे। इस वजह से बच्चों के मार्क्स कम होने के चांसेस हैं इसलिए छात्रों की मांग है कि उन्हें बोनस दिया जाए। ताकि उनके रिजल्ट पर कोई असर ना पड़े। और उनके रिजल्ट अच्छे मार्क्स से आए यह छात्रों की मांग है। प्रश्न गलत होने के कारण उत्तर भी गलत माना जाएगा इसलिए बोनस की मांग की छात्रों ने उन्हें बोनस दिया जाए।

टाइम टेबल 10वीं का अगला एग्जाम- गणित:-

दिन तारीख विषय
शुक्रवार 18-02-2022 हिन्दी
मंगलवार 22-02-2022 गणित
गुरुवार 24-02-2022 उर्दू
शनिवार 26-02-2022 सामाजिक विज्ञान
बुधवार 02-03-2022 विज्ञान
शनिवार 05-03-2022 अंग्रेजी
मंगलवार 08-03-2022 संस्कृत
बुधवार 09-03-2022 मराठी, पेंटिंग, गुजराती, सिंधी, पंजाबी, दृष्टिहीनों के लिए संगीत
गुरुवार 10-03-2022 NSQF (नेशनल स्किल्स क्वालीफिकेशन फ्रेमवर्क)

MP Board 10th 2022 NEWS
                                          MP Board 10th 2022 NEWS

मध्यप्रदेश कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन:-

नर्मदा एक्सप्रेस-वे का नाम बदलकर स्वीकृत मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज मंत्रि-परिषद की बैठक हुई।मंत्रि-परिषद ने प्रस्तावित नर्मदा एक्सप्रेस-वे को मध्यप्रदेश में नर्मदा प्रगति पथ के रूप में स्वीकृति दी। साथ ही प्रदेश में नर्मदा एक्सप्रेस-वे के एकरेखण प्रस्ताव अनुसार विभिन्न खण्डों में मार्ग की श्रेणी, चौड़ाई एवं प्रमुख क्षेत्रों को जोड़ने के लिये फीडर रूटस (Feeder Routes) के निर्माण के प्रस्ताव का अनुमोदन एवं भारत शासन से समन्वय कर स्वीकृति प्राप्त करने के लिये लोक निर्माण विभाग को अधिकृत किये जाने की सैद्धांतिक स्वीकृति दी गई। साथ ही नर्मदा प्रगति पथ पर औद्योगिक क्षेत्रों के विकास कार्यों के वित्त पोषण एवं निवेश प्रोत्साहन के उददेश्य से कार्य-योजना बनाकर क्रियान्वयन करने के लिये औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग को अधिकृत किये जाने का अनुमोदन किया गया।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

JOIN WHATSAPP GROUP CLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE