Indian Railways new guidelines 2022 – ट्रेन में सोने के लिए बने नए नियम

Indian Railways new guidelines 2022 – ट्रेन में कुछ नए गाइडलाइंस लागू किए गए हैं- यह गाइडलाइन ड्रीम में सोने को लेकर गाइडलाइन बनाया गया है। आएगी जानते हैं क्या-क्या नियम है- तो जैसे कि हम सब ट्रेन में सफर करते हैं तो हमें सभी नियमों का मालूम होना बहुत जरूरी है। अगर आपकी ट्रेन में सफर करने की तैयारी कर रही है या या ट्रेन में सफर करते हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत खास हो सकती है। भारतीय रेलवे अक्सर यात्रियों की सुविधा के लिए अपने नियमों में बदलाव करती रहती है। और किसी भी यात्राओं को समस्या ना हो इसलिए बदलाव करना बहुत जरूरी होता है।

Join

Table of Contents

Indian Railways new guidelines 2022

जैसे कि आप सभी रेलवे में यात्रा करते हैं तो आप सभी को भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जैसे कि आप सोते हैं तो आपको डिस्टर्ब होता है- ऐसे में रेलवे ने यात्रियों की नींद में कोई खलल न पड़े, इसके लिए नियम बनाए हैं। इन नियमों को जानना बेहद जरूरी है। कहीं ऐसा न हो कि नियमों की जानकारी न होने पर आपको कई तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। अगर आपको गाइडलाइंस के बारे में पता होगा तो ना आपको किसी की वजह से समस्या होगी और ना ही उन्हें आपकी वजह से समस्या होगी।

रेलवे के नए नियमों के अब आपकी सीट, कंपार्टमेंट या कोच में कोई भी पैसेंजर तेज आवाज में मोबाइल पर बात नहीं कर सकता और न ही वह ऊंची आवाज में गाने सुन सकता है। शिकायतें ऐसी भी रेलवे को मिली थीं कि लोग ग्रुप में बैठकर ऊंची आवाज में बातें करते हैं और हंसी मजाक करते हैं। वहीं इसके अलावा लाइट जलाने और बुझाने को लेकर भी कई बार विवाद हुआ है। इसी के चलते रेल मंत्रालय ने ये नये नियम बनाए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेलवे ने इसके लिए सभी जगह आदेश जारी कर दिया है। आदेश में कहा गया कि इन नियमों को जल्द से जल्द लागू किया जाए। इसके अलावा अगर कोई यात्री किसी और दिक्कतों के कारण रेलवे को शिकायत करता है, तो रेलवे उन शिकायतों को जल्द से जल्द से दूर करने की कोशिश करेगा।

new guidelines for train travel in india

भारतीय रेलवे ने ट्रेन में यात्रा करने के लिए कुछ नियमों में बदलाव किया है। इसलिए आपके लिए जरूरी है कि आप बदले हुए नियमों के बारे में अपडेट रहें। नए नियम विशेष रूप से रात में यात्रा करने वाले यात्रियों पर लागू होंगे।यह कदम रेलवे बोर्ड को यात्रियों से शिकायत मिलने के बाद आया है कि कुछ लोग रात में मोबाइल पर जोर से बात कर रहे हैं या संगीत सुन रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने फैसला किया है कि रात की यात्रा के दौरान किसी भी यात्री को रात 10 बजे के बाद मोबाइल पर तेज आवाज में बात करने की अनुमति नहीं होगी और न ही वह तेज आवाज में संगीत सुन पाएगा। नए नियम के मुताबिक रात के सफर में नाइट लाइट को छोड़कर बाकी सभी लाइटें बंद करनी होंगी।

Indian Railways new guidelines 2022
Indian Railways new guidelines 2022

ऐसी शिकायतें मिलने पर कार्रवाई की जा सकती है। चेकिंग स्टाफ, आरपीएफ, इलेक्ट्रीशियन, कैटरिंग स्टाफ और मेंटेनेंस स्टाफ रात में शांतिपूर्वक काम करेंगे। इससे पहले, रेलवे ने हाल ही में ट्रेनों के अंदर लिनन, कंबल और पर्दे प्रदान करना फिर से शुरू करने के आदेश जारी किए थे। देश में बढ़ते COVID-19 मामलों को देखते हुए प्रतिबंध लगाए गए थे। ट्रेनों में अनारक्षित डिब्बे लगाने का भी फैसला किया है। अब यात्री विंडो टिकट लेकर यात्रा कर सकेंगे। देश में कोरोना के मामले सामने आने के बाद मार्च 2020 में अनारक्षित डिब्बों को ट्रेनों से हटा दिया गया था। रेलवे महामारी के दौरान पूरी तरह से आरक्षित ‘विशेष ट्रेनें’ चला रहा था ताकि ट्रेनों में भीड़ को रोका जा सके ताकि बीमारी को फैलने से रोका जा सक।

FAQs about indian railways 2022 

1. भारतीय रेलवे के नए नियम क्या हैं?

इसके अलावा, नए नियमों के सेट में यह भी कहा गया है कि समूह में यात्रा करने वाले यात्रियों को देर रात तक बात करने की अनुमति नहीं होगी और रात को छोड़कर सभी लाइटें रात 10 बजे के बाद बंद कर दी जाएंगी। नियमों का पालन नहीं करने वाले यात्रियों के साथ रेलवे अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा

2. क्या अब 2022 में जनरल टिकट उपलब्ध है?

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय रेलवे द्वारा 1 जनवरी, 2022 से 20 ट्रेनों में सामान्य टिकट की सुविधा फिर से शुरू करने की संभावना है। अब आप नए साल 2022 के पहले दिन से अनारक्षित टिकटों के माध्यम से सामान्य डिब्बों में यात्रा कर सकते हैं।

3. क्या मैं बिना वैक्सीन के ट्रेन में यात्रा कर सकता हूँ?

राज्य सरकार ने बुधवार को बंबई उच्च न्यायालय को बताया कि टीकाकरण की स्थिति के बावजूद सभी को सार्वजनिक परिवहन से यात्रा करने की अनुमति देना न केवल जीवन को खतरे में डालेगा, बल्कि कोविड -19 संचरण को रोकने के लिए अब तक किए गए सभी प्रयासों को भी नकार देगा।

4. रेलवे आरक्षण का नया नियम क्या है?

सामान्य कोटा आरक्षण के लिए आप एक टिकट पर 6 यात्रियों को बुक कर सकते हैं। तत्काल आरक्षण के लिए, प्रति टिकट केवल 4 यात्रियों की अनुमति है। आईआरसीटीसी उपयोगकर्ता एक महीने में प्रति आईडी केवल 6 टिकट बुक कर सकते हैं। जिन उपयोगकर्ताओं ने अपने खातों का आधार सत्यापन पूरा कर लिया है, वे एक महीने में प्रति आईडी 12 टिकट बुक कर सकते हैं।

JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE