How To Do Mind Reading: माइंड रीडिंग कैसे करें, क्या है इसके पीछे का विज्ञान?

How To Do Mind Reading
How To Do Mind Reading

How To Do Mind Reading: Mind Reading को लेकर लोगों के मन में अपने अलग-अलग विश्वास है। कोई इसे कला कहता है, कोई जादू तो कोई इसे दैवीय शक्ति से भी जोड़कर देखता है। क्योंकि माइंड रीडिंग करने वाला इंसान के मन में क्या चल रहा है वो सब बता देता है। ऐसे में लोग mind reader को अपने-अपने अलग दृष्टिकोण से देखते हैं।

माइंड रीडिंग अपने ही आप में इतनी अद्भुत है की लोग माइंड रीडिंग कैसे करते हैं (How To Do Mind Reading) ये जानना चाहते हैं। किसी के दिमाग को पढ़ना आसान बात नहीं है क्योंकि आप बीना किसी इक्विपमेंट के किसी दूसरे इंसान के मन में चल रही बातों को बता देते हैं। इससे कई बार सामने वाला इंसान चकित रह जाता है की कोई बिना किसी जान पहचान के सामने वाले के मन का हाल कैसे बता सकता है। आइए जानते हैं माइंड रीडिंग कैसे करते हैं और mind reader कैसे किसी के दिमाग को पढ़ता है। 

Adani Group Latest News

Budget Expectations

Budget 2023-24 In India

Income Tax News

Toll Tax Rules Changed

Pan Card Correction Online

Table of Contents

Join

How To Do Mind Reading

Mind reader जब किसी को देखकर उनके मन का हाल बता देते हैं, तो सामने वाले के दिमाग में अक्सर How To Do Mind Reading का ख्याल आता है। देखिए माइंड रीडिंग में रीडर व्यक्ति को बिना टच किए बिना किसी इक्विपमेंट का प्रयोग किए उसके मन में क्या चल रहा है ये बता देता है। हालाकि ये सब साइकोलॉजिकली हो रहा है और ये साइकोलॉजी का खेल है। इसके अलावा रीडर की कुछ ट्रिक्स भी होती है जिसके द्वारा से ये सब करते हैं। लेकिन किसी नॉर्मल व्यक्ति के लिए ये सब आम नहीं होता उन्हें ये सब एक जादू जैसा लगता है। व्यक्ति के मन की सोच के अनुसार रीडर को जो संकेत मिलते हैं वे उस अनुसार व्यक्ति के मन में चल रहे बातों का पता लगा लेते हैं। 

How To Do Mind Reading overview

TopicDetails
ArticleHow To Do Mind Reading
CategoryPsychology 
PlaceIndia
Year2023

 

How One Can read human mind

बताया जाता है की व्यक्ति के उठने बैठने के ढंग, उनके चेहरे के हाव-भाव यहां तक के उनके हाथ पैरों के मूवमेंट से भी माइंड रीडर आपके मन में चल रही बातों का पता लगा लेता है। आज के समय में आमतौर पर कोई साइकोलॉजी पढ़ने वाला व्यक्ति ये कर सकता है। लेकिन पहले के समय में और आज भी बहुत कम तांत्रिक या गुरु किसी व्यक्ति के मन में चल रही बातें जान जाते हैं। इतना ही नहीं वे उन बातों को भी जान लेते हैं जिनके बारे में आप सोच नहीं रहे होते या जो सिर्फ आपको ही पता होती है।

कॉर्ल ह्यूम के कॉन्सेप्ट सिंक्रनाइजेशन के अनुसार, हर व्यक्ति का दिमाग एक दूसरे से किसी ना किसी तरह से कनेक्ट होता है। जब अन्य व्यक्ति  बहुत ही स्थिर चित्त के साथ किसी के मन में झांकने की कोशिश करता है तो कुछ स्तर तक वह व्यक्ति को दूसरे के दिमाग से उसे संकेत मिलने लगते हैं और यह संकेत सामने वाले को आभास के तौर पर प्राप्त होते हैं, जिससे वह आपके भीतर चल रही बातों का कुछ स्तर तक अंदाजा लगा लेता है।

How To Do Mind Reading
How To Do Mind Reading

 

How To people enter in human mind

कॉर्ल ह्यूम के कॉन्सेप्ट सिंक्रनाइजेशन के बारे में बात करें तो उनका कहना है कि हर व्यक्ति का दिमाग किसी ना किसी से जुड़ा होता। व्यक्ति जब भी अपने दिमाग में किसी चीज का ख्याल करता है तो उसका दिमाग तरह-तरह के सिग्नल जनरेट करने लगता है यह सिग्नल माइंड रीडर को आपके दिमाग में चल रही बातें जानने में मदद करता है।

जब भी माइंड रीडर आपके दिमाग को पढ़ने की कोशिश करते हैं तो वह शांत मन से आपके हाव-भाव आपकी आंखें तथा आपके होठों पर देखते हैं। दिमाग में चल रहे किसी प्रकार के विचार का प्रभाव आपकी आंखों पर पड़ता है इसके अलावा आपके माथे की झुर्रियां भी बहुत कुछ बयां कर देती हैं। मान लीजिए कि आप किसी से बहुत अधिक प्यार करते हैं जब उस व्यक्ति के साथ कुछ बुरा होने वाला होता है तो आपको पहले ही आभास होने लगता है इसी को माइंड कनेक्शन कहते हैं। आपके अंदर चल रहे विचारों को माइंड रीडर अपने दिमाग से कनेक्ट करते हैं और बड़ी आसानी से आपके दिमाग में घुस जाते हैं।

Is mind reading is real magic

क्या माइंड रीडिंग ही असली जादू है (is mind reading is real magic) माइंड रीड करने वाला व्यक्ति जादूगर होता है या उसके पास किसी तरह की कोई चमत्कारी शक्ति होती है। जी नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं है माइंड रीड करने वाला व्यक्ति कुछ ट्रिक्स की मदद से सामने वाले इंसान का दिमाग पड़ता है। कुछ बड़े माइंड रीडर्स ने बताया है कि उनके पास ऐसी ट्रिक्स होती है जो पहले से फिक्स होती है वह सिर्फ इंसान को ट्रिक्स के अनुसार काम करने को कहते हैं और अंत में रिजल्ट वही होता है जो माइंड रीडर को पहले से पता होता है। आपने कई बार किसी व्यक्ति को यह करते देखा होगा कि वह किसी व्यक्ति से कहता है कि तू मन में एक नंबर सोच उसका डबल कर उसका गुनाह कर इससे भागकर और अंत में वह उसका आंसर भी बता देता है। इसी को ट्रिक्स कहते हैं।

FAQs related to How To Do Mind Reading

How to do mind reading?

माइंड रीडिंग करने से पहले आपको कुछ ट्रिक सीखने होंगे इसके अलावा लोगों के हावभाव को पढ़ना सीखना होगा।

साइकोलॉजी क्या है?

साइकोलॉजी एक विषय है, जिसमें मानवीय व्यवहार और उसकी प्रतिक्रियाओं का विस्तार से अध्ययन किया जाता है।

Join Whatsapp GroupClick Here
PH Home Pagephysicshindi.com

About Touseef 3660 Articles
Tauseef was born in Deharadoon, Uttarakhand. He began writing in 2021, and has contributed to the educational and finance content. He lives in Nainitaal.