Fake Coin Factory News 2022: नकली सिक्के के कारोबार का धंधा बंद, बड़ी खबर

Fake Coin Factory News
Fake Coin Factory News

Fake Coin Factory News – दोस्तों कहीं आपका भी coin तो नकली नहीं है, पुलिस ने नकली सिक्के बनाने वाले फैक्ट्री के मालिक को दबोचा। तो दोस्तों चलिए जानते हैं क्या राज है Fake coin Factory के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे आज नकली सिक्के बनाने वाले फैक्ट्री के बारे में और किस तरह पता करें कि यह सिक्का असली है या नकली इस बारे में भी जानेंगे। दोस्तों जैसे कि आप सभी को पता है आजकल देश भर के बाजार में 10 एवं ₹20 के सिक्के उपलब्ध हैं। तो जाहिर सी बात है कि हम 10 और ₹20 के सिक्के के बारे में बात करेंगे। दोस्तों पूरी जानकारी लेने के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

Fake Coin Factory News

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 5, 10 और 20 के नकली सिक्के बनाने वाली फैक्ट्री Fake coin Factory को पकड़ लिया गया है, जिनका नाम है नरेश कुमार और भी पांच लोग इनके साथ गिरफ्तार हुए हैं, नरेश कुमार जो है वह इस कंपनी के मालिक हैं, यह बात आपको बता दिया जाए। आपको बता दे तो पुलिस ने सबसे पहले 22 अप्रैल को टीकरी बॉर्डर स्थित पीवीसी मार्केट से नरेश कुमार को गिरफ्तार किया गया। दोस्तों उसके पास ₹10 के 10113 Fake coin बरामद किए गए हैं। और वहां पीवीसी मार्केट में अपनी एक साथी को नकली सिक्के देने आया था फिर पूछताछ के बाद पुलिस ने उसकी फैक्ट्री पर छापा मारा तो आपको बता दें तो 20 पैकेट में 4000 सिक्के थे

Join

और 11500 खुले सिक्के और सिक्के बनाने के उपकरण बरामद किए गए। दोस्तों जब पुलिस ने छापा मारा तो इस फैक्ट्री में बहुत से नकली सिक्के मिले और सिक्के बनाने के उपकरण मिले। सभी सिक्के की कीमत 1200000 रुपए बताई जा रही है। स्पेशल सेल के डीसीपी राजीव रंजन के मुताबिक नरेश कुमार हरियाणा के बहादुरगढ़ का रहने वाला है। Fake coin Factory का मालिक है। बिहार के मधुबनी के लाडू गांव निवासी संतोष कुमार मंडल, सारण के गांव सडबारा निवासी श्रवण कुमार शर्मा, सिवान के बसंतपुर निवासी धर्मेंद्र महतो, सारण के गांव बसदी निवासी धर्मेंद्र कुमार शर्मा सिक्के को बनाते थे।

Fake coin Factory 

दोस्तों आपको बता दे तो पुलिस ने कहा था की नरेश के पास से फुल 10,1 12 नकली भारतीय सिक्के मिले हैं जिनकी कीमत ₹10 है मतलब बोला जा रहा है कि ₹10 का सिक्के हैं अंकित मूल्य 1,01,120 रुपए हैं। दोस्तों आपको बता दें जो और सभी आरोपी है वह आरोपियों की पहचान बिहार के रहने वाले है। पुलिस ने कहा कि 1 सिक्के का भीतरी सफेद रंग का हिस्सा टिक्की नामक स्टील से बनाया गया था जिससे कारखाने से भारी मात्रा में बरामद किया गया था इसके अलावा पुलिस को सिक्कों के निर्माण में इस्तेमाल होने वाले वाटर और अन्य कच्चे माल के साथ साथ ₹10 मूल्य के 70 किलोग्राम नकली भारतीय सिक्के भी मिले हैं।

Fake Coin Factory News
Fake Coin Factory News

currencyIndian currency
CountryIndia
Coin10Coin, 20Coin
Fake coin FactoryNaresh Kumar
NewsDelhi 2022

नरेश पहले मांग के आधार पर कालीन वाहनों के सीट कवर बेचता था साल 2016 में सिद्धार्थ लूथरा और उपकार लूथरा के साथ दिल्ली के बवाना में नकली सिक्कों Fake coin Factory की निर्माण इकाई शुरू की। दोस्तों आपको बता दे तू इसका भंडाफोड़ दिल्ली के केएन काटजू मार्ग के पुलिसकर्मियों ने किया है दिल्ली के पुलिसकर्मियों ने इस Fake coin Factory का पता लगाया। जमानत पर रिहा होने के बाद उसने फिर से सिक्के का अवैध निर्माण शुरू किया और फिर से 2 मौके पर हरियाणा पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया अब तक वह गिरफ्तार ही है।

FAQs about Fake Coin Factory News 2022

1. क्या नकली सिक्के बनाना संभव है?

Ans- मूल्यवान प्राचीन सिक्कों का सिक्का जालसाजी आम है; आधुनिक उच्च मूल्य के सिक्के भी जाली और परिचालित हैं। नकली प्राचीन सिक्के आमतौर पर बहुत उच्च स्तर के बनाए जाते हैं ताकि वे विशेषज्ञों को धोखा दे सकें। यह आसान नहीं है और कई सिक्के अभी भी बाहर खड़े हैं।

2. कैसे बनते हैं नकली सिक्के?

Ans- कैसे बनते थे नकली सिक्के? नकली सिक्के बनाने के दो मुख्य तरीके थे – उन्हें चोरी या जाली मरने से मारना, या उन्हें सांचे में डालना।

3. आप नकली सिक्का कैसे बता सकते हैं?

Ans- यदि आपके सिक्के का वजन निर्दिष्ट राशि से अधिक है, तो संभवतः आपके पास नकली है। एक सिक्के के वजन को मापने वाले इलेक्ट्रॉनिक तराजू। दिखाया गया सिक्का असली है और इसका वजन 12.5 ग्राम है। सिक्के पर पहनने से वजन कम होकर 11.9 ग्राम हो गया है।

4. लोग नकली सिक्के क्यों बनाते हैं?

Ans- आधुनिक समय में, नकली सिक्के बनाने वालों को क्लासिक सिक्कों के साथ धोखा देने के लिए नकली सिक्के बनाते हैं जो अब खनन नहीं किए जाते हैं। किसी भी तरह से, एक जालसाज कम मूल्यवान सामग्री लेकर और उसे अधिक मूल्यवान दिखने वाली चीज़ में बदलकर अपना पैसा कमाता है।

5. क्या बैंक दुर्लभ सिक्कों की जांच करते हैं?

Ans- सिक्कों को इकट्ठा करने के सबसे फायदेमंद तरीकों में से एक बैंक से नियमित रूप से परिसंचारी सिक्कों में दुर्लभ सिक्के ढूंढना है। आप सिक्कों के बैंक-लिपटे रोल खोजने में गलत नहीं हो सकते।

Official WebsiteClick Here
PH HomepageClick Here
About Touseef 3659 Articles
Tauseef was born in Deharadoon, Uttarakhand. He began writing in 2021, and has contributed to the educational and finance content. He lives in Nainitaal.