CBSE Urgent Notice: सीबीएसई ने किया बोर्ड परीक्षा एवं प्रश्नपत्र के तरीके में बड़ा बदलाव

सीबीएसई (CBSE Urgent Notice) ने कक्षा 10th  व 12वीं की बोर्ड एग्जाम के पेपर पैटर्न में बदलाव कर दिया नई शिक्षा नीति के अनुसार किए गए ये बदलाव इसी सत्र से ही किये जायेंगे।  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कक्षा दसवीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा के पेपर के पैटर्न में कुछ महत्बपूर्ण  बदलाव किया है। नई शिक्षा नीति के अनुसार किए गए ये बदलाव मौजूदा सत्र में ही लागू होंगे। इसके अनुसार हर पेपर तीन घंटे का होगा। सीबीएसई पहले ही बता चुका है कि इसी सत्र (2022-23) से 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं कोरोना पूर्व के वर्षों के जैसी एक ही टर्म में सत्र के अंत में वार्षिक परीक्षा के रूप में ली जाएंगी, जबकि पहले कोरोना के कारण दो टर्म में परीक्षाएं लेने का निर्णय हुआ था।

क्या बदलाब होगा इस बर्ष वार्षिक परीक्षा के पेपर में जाने

प्रिय छात्रों जैसा की आप जानते है पिछले 2 बर्षो से देश कोरोनो संक्रमण से गुजर रहा था इसी को देखते हुए प्रश्न पत्र के पेटर्न में कुछ बदलाब किया गया था लेकिन अब कोरोना संक्रमण का खतरा कम हो गया है इस कारण बोर्ड एक बार फिर से बदलाब करने जा रहा है.सीबीएसई डायरेक्टर (अकादमिक) द्वारा जारीअधिसूचना के अनुसार, इस साल से 10वीं की बार्षिक बोर्ड परीक्षा में लगभग 40 प्रतिशत प्रश्न समझ आधारित होंगे। ये बहुविकल्पीय होंगे।

20 प्रतिशत प्रश्न वस्तुनिष्ठ होंगे और वाकी के 40 प्रतिशत प्रश्न लघुउत्तरीय व दीर्घउत्तरीय होंगे। 12वीं में 30 प्रतिशत प्रश्न समझ आधारित बहुविकल्पीय होंगे, जिनमें केस स्टडी व पैराग्राफ आधारित प्रश्न होंगे। 20 प्रतिशत वस्तुनिष्ठ जबकि शेष 50 प्रतिशत प्रश्न लघु और दीर्घ उत्तरीय पूछे जाएंगे। अब शैक्षणिक सत्र के अंत में एक बार वार्षिक परीक्षा लेगा शिक्षा बोर्ड आपको बता दे की  नौवी और 11वी में भी इसी पैटर्न पर होगी परीक्षा तीन घंटे का होगा पेपर.

 

इस बर्ष CBSE paper का पैटर्न इस प्रकार का होगा 

समझ आधारित प्रश्न 40 प्रतिशत
प्रश्न वस्तुनिष्ठ 20 प्रतिशत
लघुउत्तरीय व दीर्घउत्तरीय 40 प्रतिशत
योग 100 प्रतिशत
CBSE Urgent Notice
CBSE Urgent Notice

आंतरिक परीक्षा में बदलाव नहीं होगा 

 सीवएसई ने स्पष्ट कहा है कि 10वीं और 12वीं की आंतरिक परीक्षाओं के पैटर्न मेंकिसी भी तरह का  बदलाव नहीं है।लेकिन नौवीं और 11वीं की परीक्षाओं के लिए भी क्वेश्चन पेपर का बदला पैटर्न लागू किया जायेगा।छात्र सीबीएसई द्वारा तय नए पेपर के पैटर्न को उसकी ऑफिसियल वेवसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। कोरोना संक्रमण के चलते पिछले साल पेपर में कुछ बदलाब किये गए जो की आप देख सकते है.सीवीएसईने कोरोना महामारी के चलते  सत्र 2021-22 में 10वी और 12वीं की परीक्षा दो टर्म में लेने का फैसला किया था। इस सत्र से अंत में एक वार्षिक परीक्षा लेने का निर्णय किया है। 

कोरोनाकाल में परीक्षा प्रणाली में हुआ था बदलाव (CBSE Urgent Notice)

कोरोना संक्रमण के कारण  पिछले साल बोर्ड को अपनी परीक्षा प्रणाली में कुछ  बदलाव कर दिए इसका कारण रेगुलर क्लास का न लगना था । इससे 2021-22 में बोर्ड परीक्षाएं 2 भाग  में आयोजित करने का अहम् फैसला लिया गया था। बर्ष में दो बार में टर्म परीक्षाएं आयोजित करने के लिए सीबीएसई ने अपने पाठ्यक्रम को दो भागों (टर्म-एक और टर्म-दो) में विभाजित कर दिया था । इसी के कारण से प्रश्न पत्र के पैटर्न में भी बदलाब कर दिया गया । इसके अनुसार, 50 प्रतिशत पाठ्यक्रम की परीक्षा टर्म-एक में वैकल्पिक माध्यम में ली गई थी, जबकि बाकी 50 प्रतिशत पाठ्यक्रम की परीक्षा टर्म-दो में सैद्धांतिक माध्यम में ली जा रही है।

कोरोना के कारण हुआ था बदलाव (CBSE Urgent Notice)

बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने कहा  कि सीबीएसई ने कोरोना संक्रमण के कारण सत्र 2021-22 में 10वीं और 12वीं की परीक्षा दो टर्म में लेने का फैसला लिया था , लेकिन मौजूदा स्थितियों को देखते हुए बोर्ड ने पूर्व की तरह शैक्षणिक सत्र से अंत में एक एनुअल एग्जाम  लेने का फैसला किया है। सीबीएसई के अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है  कि बोर्ड ने पहले की तरह वार्षिक परीक्षाओं का निर्णय सभीएक्सपर्ट की प्रतिक्रिया लेने के बाद लिया है। ये परीक्षाएं तीन घंटे की होंगी।

TELEGRAM GROUP CLICK HERE
PHYSICSHINDI HOME CLICK HERE