मध्यप्रदेश ताजा खबर

Board Exam 2022-संक्रमण : इस बार भी नहीं होगी पांचवी आठवीं बोर्ड परीक्षा

MP Board Exam 2022 – इस पोस्ट में हम बात कर रहे है क्लास 8 और 5 की बोर्ड एग्जाम के बारे में मध्यप्रदेश में पिछले 10 सालो से बोर्ड एग्जाम नहीं हो पाई है सरकार पिछले दो सालो से प्रयास कर रही है की आठवी और पाचवी के बोर्ड एग्जाम कराये जाए परन्तु इस बर्ष भी संभव नहीं हो पाया | कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण प्रवेश के सरकारी स्कूलों में इस साल पांचवीं व आठवीं की बोर्ड परीक्षा नहीं होगी। बल्कि पिछले साल की तरह वार्षिक परीक्षा के आधार पर ही मूल्यांकन होगा। राज्य शिक्षा केंद्र की ओर से पहली से आठवीं तक की वार्षिक परीक्षा मार्च में आयोजित की जाएगी। अभी परीक्षा की समयसारिणी जरी नहीं की गई है। विद्यार्थियों का प्रतिभा मूल्यांकन जनवरी में एवं वार्षिक मूल्यांकन मार्च में किया जाएगा। बता दें कि स्कूल शिक्षा विभाग ने 2010 में पांचवीं व आठवीं में बोर्ड पैटर्न पर परीक्षा आयोजित कराने का निर्णय लिया था। कुछ विषयों की परीक्षा हुई, लेकिन लाकडान के कारण शेष विषयों की परीक्षाएं निरस्तकर उन विषयों में बच्चों को जनरल प्रमोशन दे दिया गया था। इसके बाद पिछले साल बच्चों के घर-घर वर्कशीट भेजकर वार्षिक मूल्यांकन किया गया।

महत्वपूर्ण जानकारियाँ —

Join

  • “बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”
  • एमपी बोर्ड मॉडल पेपर्स डाउनलोड करने के लिए यहाँ पर क्लिक करें 
  • इस बर्ष 60 फीसदी लिखित और 40 फीसदी मौखिक के आधार पर बनेगा रिजल्ट

    बता दें कि 2000 में बोर्ड परीक्षा को खत्म किया गया था और इन कक्षाओं में फेल होने वाले बच्चों को औसत अंक देकर पास कर दिया जाता था। दो साल पहले फिर से बोर्ड पैटर्न लागू किया गया, लेकिन पूरा नहीं हो पाया। वहीं, मप्रबोर्ड के निजी स्कूलों में तो पिछले साल भी बोर्ड पैटर्न लागू नहीं हो पाया था। अब इस बार भी नहीं होगा। प्रदेश के सरकारी व निजी स्कूलों में पांचवीं व आठवीं कक्षा में करीब आठ लाख विद्यार्थी अध्यनरत है 60 अंक के लिखित व 40 अंक के प्रोजेक्ट कार्य पर होगा मूल्यांकन :राज्य शिक्षा केंद्र ने पहली से आठवीं कक्षा तक के पूरे पाठ्यक्रम को 60 व 40 के अनुपात में पुननियोजित कर दिया है। इसमें पहली से आठवीं कक्षा के सभी विषयों में 60 अंक की थ्योरी और 40 अंकके प्रोजेक्ट कार्य होंगे।

    रिजल्ट 2022 इस तरह बनेगा

    इस बार भी कक्षा पहली एवं दूसरी के बच्चों को स्कूलों से ही अभ्यास पुस्तिका दी जाएगी, जिसके अंत में वर्कशीट होगी। इसमें हिंदी, अंग्रेजी एवं गणित विषय के प्रश्न होंगे। कक्षा तीसरी से आठवीं तक के बच्चे को दी जाने वाली वर्जशीट में कौशल अधारित प्रल और प्रोजेक्ट वर्क होंगे। वर्कशीट में ही प्रस्नों के उत्तर और प्रोजेक्ट वर्क लिखने के लिए स्थान रहेगा। वर्कशीट में 60 प्रतिशत लिखित एवं 40 प्रतिशत अंक प्रोजेक्ट कार्य के अधार पर दिए जाएंगे। अधिक जाकारी के लिए विजिट करें – physicshindi.com

    Covid 19 : MP Exam News 2022

    You may also like

    Comments are closed.