नर्सरी से 12 वीं तक अब स्कूलों में पढ़ाया जायेगा आयुर्वेद | Ayurveda will be taught from nursery to 12th

Ayurveda will be taught from nursery to 12th
Ayurveda will be taught from nursery to 12th

नर्सरी से 12 वीं तक अब स्कूलों में पढ़ाया जायेगा आयुर्वेद | Ayurveda will be taught from nursery to 12th

नर्सरी, एलकेजी , यूकेजी, कक्षा 1 से लेकर 12 वीं तक के स्कूलों में अब आयुर्वेद व योग छात्रों को पढ़ाया जायेगा – इस संबंध में लोकसभा में आयुष मंत्रालय भारत सरकार ने पाठ्यक्रम में शामिल करने संबंधित लिखित में जानकारी दी!

नर्सरी से 12 वीं तक अब स्कूलों में पढ़ाया जायेगा आयुर्वेद

Join

आयुर्वेद महासम्मेलन व आयुष मेडिकल एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ राकेश पाण्डेय ने बताया कि, केंद्र सरकार व खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रबल इच्छा रही है कि हजारों वर्ष पुराना आयुर्वेद – योग की गंभीरता व उपयोगिता के साथ इसकी सुलभता से छात्र बचपन से ही अवगत हो सकें और दैनिक जीवन की दिनचर्या में नियमित रूप में शामिल कर सकें! कोरोना जैसी वैश्विक महामारी ने सभी को सिखा दिया कि मजबूत इम्यूनिटी की शरीर को कितनी जरूरत रहती है और इसके लिये आयुर्वेद – योग से बढ़कर कुछ नहीं! वहीं एलोपैथिक औषधियों के साइडइफेक्ट आयुर्वेद की तुलना में कहीं ज्यादा हैं! निश्चित रूप से अब छात्रों में जागरूकता से आयुर्वेद रिसर्च को भी बढ़ावा मिलेगा|

Ayurveda will be taught from nursery to 12th
Ayurveda will be taught from nursery to 12th

एमपी बोर्ड की सभी खबरों के लिए आप हमारी वेबसाईट physicshindi.com पर रेगुलर विज़िट करते रहिए तथा इस पोस्ट को शेयर करना न भूलें अपने दोस्तों के साथ।

About Touseef 3659 Articles
Tauseef was born in Deharadoon, Uttarakhand. He began writing in 2021, and has contributed to the educational and finance content. He lives in Nainitaal.