अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा परीक्षा आवेदन की तिथि समाप्त

रीक्षा आवेदन की तिथि समाप्त 50 फीसदी छात्र अभी भी वंचित

नमस्कार दोस्तों मामला अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा का जहाँ लाखों छात्र पढ़ते है परन्तु अभी एक मामला सामने आया है जिसमे यूनिवर्सिटी में मुख्य परीक्षा के आवेदन फॉर्म भरने की अंतिम तिथी समाप्त हो गई है दोस्तों आप अंदाजा लगा सकते है की यदि परीक्षा की अंतिम तिथी समाप्त हो गई ऐसे में परीक्षा फॉर्म न भरने से लाखों विद्यार्थी का भविष्य ख़राब हो सकता है क्यों की एग्जाम में कैसे बैठेगे जब परीक्षा फॉर्म ही नहीं भरा हो तो हलाकि छात्र यूनिवर्सिटी और कॉलेज में पढने वाले छात्र संघटन लगातर मांग कर रहे है की परीक्षा की फॉर्म भरने की अंतिम तिथी बढ़ाई जाय जिससे जो स्टूडेंट एग्जाम फॉर्म न भर सके वे भी भर सकते और एग्जाम दे पाए.

APS University exam form
APS University exam form

क्या है पूरा मामला जाने विस्तार से

अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय की ओर से दिसम्बर 2021 सेमेस्टर परीक्षाओ को लेकर परीक्षा आवेदन करने की तिथि जो तय की गई थी वह 25 दिसम्बर को पूरी हो चुकी है। वहीं छात्रों की मानें तो निर्धारित समय सीमा के अंदर मुश्किल से 50 फीसदी आवेदन ही हो पाए हैं। अभी भी 50 फीसदी छात्रों को परीक्षा आवेदन करना बचा हुआ है। उन्होंने बताया कि शुरुआती दिनों में विश्वविद्यालय के पोर्टल लिंक नहीं खुली और दस दिन का समय बिना आवेदन के निकल गया।

लिंक ओपन ना होने से छात्र परेशान हो रहे है

बाद में मुश्किल से एक सप्ताह विश्वविद्यालय की ओर से खोली गई लिंक काम कर पाई है। इतना ही नहीं समय-समय पर इसमें भी खराबी आती रही। कियोस्क सेंटर के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने में छात्रों को कई तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है। छात्रों के हित को देखते हुए छात्र संगठनों ने विश्वविद्यालय प्रबंधन से परीक्षा आवेदन की तिथि बढ़ाने की मांग की है। जिससे आवेदन करने से वंचित रह गए। छात्र-छात्राओं को मौका मिल सके और वह परीक्षा के लिए आवेदन कर सकें। हालांकि विश्वविद्यालय प्रबंधन अब आगे परीक्षा तिथि बढ़ाने को लेकर तैयार नहीं दिखाई दे रहा ऐसे में लग रहा है कि हजारों छात्र परीक्षा प्रक्रिया से बाहर होंगे। जिन्हें बाद में भूतपूर्व या फिर एटीकेटी जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

अधिक जानकारी के लिए विजिट कीजिये हमारी वेबसाइट physicshindi.com को.