Alert for PAN Card users: सावधान! PAN Card Users के लिए जरूरी हैं ये खबर, इस गलती पर देना पड़ेगा 10,000 का जुर्माना

आप के इस आर्टिकल में हम आपको Alert for PAN Card users के बारे में बताने वाले हैं. पैन कार्ड आज के समय में बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज बन गया है पैन कार्ड आजकल हर एक वित्तीय काम से लेकर पहचान पत्र की तरह काम आने वाले दस्तावेज है. पैन कार्ड के बिना बहुत सारे महत्वपूर्ण काम अटक सकते हैं. पैन कार्ड की आवश्यकता हर वित्तीय ट्रांजैक्शन करने और बैंक खाता खुलवाने के समय होती है. यानी कहा जाए कि पैन कार्ड एक बहुत ही महत्वपूर्ण आवश्यक दस्तावेज बन चुका है. पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करवाना अब अनिवार्य कर दिया गया है. इसी के साथ आपको यहां सुनिश्चित करना चाहिए कि आपका पैन कार्ड आपके आधार कार्ड से लिंक है अथवा नहीं. इसी के साथ आपको एक बात और का ध्यान रखना चाहिए अन्यथा आपको ₹10000 तक का जुर्माना देना पड़ सकता है. आइए जानते हैं कि वह कौन सा काम है जो नहीं करने पर आपको ₹10000 का जुर्माना भरना पड़ सकता है.

Alert for PAN Card users

जब भी आप अपने पैन कार्ड का इस्तेमाल करें तो आप अपने पैन कार्ड पर दिए गए 10 अंको को बिल्कुल ध्यान से भरना होगा इसी के साथ आपको अपने नाम की स्पेलिंग में भूल कर भी मिस्टेक नहीं करनी है. अन्यथा आप बड़ी उलझन में पड़ सकते हैं. इसी के साथ सबसे बड़ी बात यह है कि यदि आपके पास दो पैन कार्ड है तो आपको भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है या फिर आपका बैंक एकाउंट भी फ्रीज हो सकता है. इसलिए अगर आपके पास भी दो पैन कार्ड है तो आपको तुरंत अपना एक पैन कार्ड विभाग को सरेंडर करना होगा अन्यथा आपको ₹10000 तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है. इनकम टैक्‍स एक्‍ट 1961 के सेक्‍शन 272B के अंतर्गत इस बात का प्रावधान किया गया है जिन भी व्यक्तियों के पास दो पेन कार्ड पाए जाएंगे उन व्यक्तियों पर ₹10000 तक का जुर्माना लगाया जा सकता है. 

Official Documents after Death

मृत व्यक्ति के कानूनी उत्तराधिकारी को यह पता नहीं होता है कि मृतक व्यक्ति के दस्तावेजों के साथ क्या करना चाहिए क्या उन्हें फेंक देना चाहिए या उन्हें रखना चाहिए? इसके साथ ही बहुत सारे सवाल उठता है कि क्या पैन कार्ड आधार कार्ड और वोटर आईडी कार्ड एवं अन्य सभी सरकारी दस्तावेजों के संबंधित विभागों को सौंप देना चाहिए या इन्हें उपयोग में लाया जाना चाहिए. ऐसे कई सारे सवाल होते हैं जिनको लोगों को पता नहीं होता है. आपको बताना चाहेंगे कि आधार कार्ड पहचान के प्रमाण और पते के प्रमाण के रूप में कार्य करता है. विभिन्न प्रकार के स्थानों जैसे एलपीजी सब्सिडी का लाभ उठाते समय, सरकार से छात्रवृत्ति लाभ, ईपीएफ खातों आदि के मामले में आधार कार्ड की आवश्यकता पड़ती है लेकिन यदि व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उस व्यक्ति के आधार कार्ड को UIDAI की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आधार कार्ड को लॉक करा देना चाहिए.

इन्हें भी पढ़ें-

Pan Card After Death

अगर किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है और उसका पैन कार्ड बना हुआ है तो आप उसके पैन कार्ड को इनकम टैक्स विभाग को सरेंडर कर सकते हैं लेकिन आप को ध्यान रखना चाहिए. कि इससे पैन कार्ड से जुड़े हुए खातों को पहले उत्तराधिकारी को ट्रांसफर करवा लेना चाहिए या फिर उन्हें बंद करवा देना चाहिए. जिससे कि बाद में किसी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े. इसी के साथ बताना चाहेंगे कि वोटर आईडी को मृतक के परिजन रद्द करवा सकते हैं. रद्द करवाने के लिए घर के किसी भी सदस्य को चुनाव कार्यालय में जाकर फॉर्म 7 भरना होता है. पासपोर्ट की बात करें तो पासपोर्ट को भी रद्द करवाने के लिए कोई प्रक्रिया नहीं है हालांकि आपको बताना चाहेंगे कि पासपोर्ट एक निर्धारित समय सीमा तक ही वैलीड रहता है जिसके बाद उसकी वैलिडिटी समाप्त हो जाती है.

Alert for PAN Card users
Alert for PAN Card users

How to return pan card online

  1. पैन कार्ड सरेंडर करने के लिए दोनों तरीके अपनाए जा सकते हैं ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही माध्यमों से पैन कार्ड रिटर्न किया जा सकता है.
  2. पैन कार्ड रिटर्न करने के लिए कॉमन फॉर्म भरा जाता है जो कि इनकम टैक्स की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है.
  3. वेबसाइट पर Request For New PAN Card Or/ And Changes Or Correction in PAN Data लिंक मिलेगा जिस पर क्लिक करते ही आपका आवेदन फॉर्म डाउनलोड हो जाएगा.
  4. इसके बाद किसी भी आवेदन एनएसडीएल के ऑफिस में जाकर इस आवेदन फॉर्म को जमा कर सकते हैं. 
PH Home Page Click Here