आ लौट चलें योजना – मध्य प्रदेश सरकार | a laut chalein yojna Mp

मध्य प्रदेश सरकार चाहती है कि प्रदेश का हर बच्चा विद्या हासिल करे और अपने जीवन को उज्जवल बनाए लेकिन वर्तमान समय में महंगाई के चलते कई अभिभावक अपने बच्चों को पढ़ाने के लिए अच्छे स्कूल नहीं भेज पाते और जो छोटे मोटे सरकारी स्कूल होते हैं वहां कोई ध्यान नहीं देता जिस कारण लोग अपने बच्चों को उन स्कूलों में नहीं पढ़ाना चाहते हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान चाहते हैं कि प्रदेश का हर गरीब अमीर बच्चा अपनी उम्र में पढ़े और आगे बढ़े। इसीलिए उन्होंने बच्चों की पढ़ाई हेतु एक नई योजना बनाई है जिसका नाम आ लौट चलें है। इस योजना के अंतर्गत बच्चों को होने वाले लाभ और इस योजना की पात्रता इत्यादि सवालों के जवाब आज हम इसी पोस्ट में देने वाले हैं। तो आइए जानते हैं।

आ लौट चलें योजना – मध्य प्रदेश सरकार | a laut chalein yojna Mp

आ लौट चले योजना मध्य प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही में बनाई गई योजना है। यह योजना विशेष रूप से उन छात्रों के लिए हैं जिन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में ही बंद कर दी थी और किसी कारणवष उन्हें ड्राॅपआउट होना पड़ा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के हर बच्चे को स्कूल भेजना है। वह विद्यार्थी जिन्होंने किसी वर्ष ड्राॅप लिया था और अब वह आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं तो वह इस योजना से वह छात्र 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा में बैठ सकेंगे। बता दें कि जो विद्यार्थी इसमें हिस्सा लेंगे उनकी परीक्षा जून 2022 में आयोजित होगी तथा निर्धारित पाठ्यक्रम लागू होगा।

Join

आ लौट चलें योजना – अवलोकन

Organization MP Govenment
Scheme A laut chalein yojna
Type of Scheme Education scheme
Scheme start on 2022
Benefits Drop-out students benefits
Eligibility please read article

a laut chalein yojna Mp
a laut chalein yojna Mp

आ लौट चलें योजना – योग्यता

कक्षा 9 से 12वीं उत्तीर्ण किए बगैर शाला त्यागी विद्यार्थियों को पुनः मुख्यधारा स्कूल से जोड़ने हेतु मध्य प्रदेश राज्य ओपन स्कूल से 10वीं एवं 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित होने का अवसर। इन विद्यार्थियों के लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश में कक्षा 10वीं अथवा 12वीं के लिए निर्धारित पाठ्यक्रम ही लागू होगा।

आ लौट चलें योजना – पात्रता

समग्र शिक्षा अभियान मध्य प्रदेश की सेकेण्डरी एवं सीनियर सेकेण्डरी स्तर के ड्राॅपआउट विद्यार्थियों की सूची वाले डाटाबेस में नाम होना चाहिए। ऐसे विद्यार्थियों को ही एमपी ऑनलाइन के माध्यम से परीक्षा फाॅर्म भरने की अनुमति होगी।

ऐसे परीक्षार्थी जिनके नाम डाटाबेस में नहीं है परंतु संघालनालय की ड्राॅपआउट परिभाषा में जाते हैं, वे जिला स्तरीय संकलन केंद्र (ईएफए स्कूल) पर संपर्क कर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा प्रमाणीकरण उपरांत डाटाबेस में सम्मिलित करने पर वह भी एमपी ऑनलाइन के माध्यम से परीक्षा फाॅर्म भर सकते हैं।

आ लौट चलें योजना – ऑनलाइन आवेदन

आवेदन एमपी ऑनलाइन www.mponline.gov.in पर करना होगा। ऑनलाइन आवेदन करते समय विद्यार्थियों को अपने साथ अंतिम परीक्षा, जिसमें सम्मिलित हुआ है उसकी मूल अंकसूची एवं फोटो पहचान हेतु दस्तावेज लेकर जाना होगा। परीक्षा जून 2022 में होगी।

आ लौट चलें योजना – प्रवेश पत्र एवं समय सारणी

परीक्षा के प्रवेश पत्र बताई गई वेबसाइट www.mponline.gov.in अथवा मोबाइल एप् MPSOS से डाउनलोड कर सकेंगे। प्रवेश पत्र पर परीक्षा की समय सारणी आदि की जानकारी अंकित होगी। फोन नंबर 0755-2552306

आ लौट चलें योजना – सरकार का लक्ष्य

मध्य प्रदेश सरकार का लक्ष्य है कि प्रदेश का हर बच्चा स्कूल में पढ़े और सभी को सस्ती और अच्छी शिक्षा अनिवार्य रूप से मिले।

स्कूल में भी और स्कूल के बाद भी

इंदर सिंह परमार (राज्य मंत्री स्कूल शिक्षा)

मध्य प्रदेश राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड

शिवाजी नगर, भोपाल