एमपी बोर्ड : 13 हजार छात्राओं को 2 साल से है साइकिल का इंतजार

शासन की अति महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक साइकिल वितरण योजना कोरोना की भेंट चढ़ गई है। शैक्षणिक सत्र समाप्त होने को है लेकिन अभी तक पात्र छात्रों को साइकिल उपलब्ध कराने के लिए वरिष्ठ कार्यालय से न तो कोई दिशा-निर्देश प्राप्त हुई है और ना ही कोई चर्चा हो रही है। विभाग से जुड़े जानकार बताते हैं कि शैक्षणिक सत्र 2019-20 में किसी भी पात्र विद्यार्थियों को साइकिल उपलब्ध नहीं कराई गई है

Join

यही स्थिति चालू शैक्षणिक सत्र में भी बनी हुई है। बताया गया है कि इससे पूर्व कक्षा 6वीं के 52 विद्यार्थियों को साइकिल दी गई थी तो वही कक्षा 9वीं के साढे 6 विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ मिला था।

28 हजार छात्र हो रहे योजना से वंचित-

बताया गया है कि साइकिल विवरण योजना के तहत शैक्षणिक सत्र 2018-19 में लगभग 13 हजार विद्यार्थियों को साइकिल वितरित की गई थी। कोरोना काल के बाद सभी शासकीय स्कूल की छात्र संख्या में इजाफा हुआ है ऐसा माना जा रहा है कि कक्षा 6वीं और 9वीं को मिलकर लगभग 14 हजार छात्रों को साइकिल मिलनी चाहिए। बीते सत्र के पात्र विद्यार्थियों सहित लगभग 28 हजार छात्र साइकिल से वंचित हो रहे हैं।

2 years waiting for students cycle.
2 years waiting for students cycle.

दो कक्षा आगे पहुंच गए विद्यार्थी-

जिन छात्र-छात्राओं को 6वीं में साईकिल मिलनी चाहिए थी, वे विद्यार्थी अब कक्षा 8वीं में पहुंच गए हैं. वहीं कक्षा 9वी का छात्र 11वीं में पहुंच गए हैं। नियमानुसार कक्षा 8वीं एवं 9वी में जब विद्यार्थी प्रवेश करता है। तो उसे मापदंडों के अनुसार साइकिल दी जाती है पर स्कूल शिक्षा विभाग के आदेश ना आने के कारण वे छात्र भी अब निराश हो रहे हैं। जो लंबे समय से साइकिल पाने का इंतजार कर रहे थे।

इस साल छात्रों को नहीं मिलेगा जनरल प्रमोशन-

साल 2019-20 में पांचवी और आठवीं के विद्यार्थियों को बोर्ड पैटर्न पर वार्षिक परीक्षा आयोजित कराई गई थी और उनके चलते बाद में जनरल प्रमोशन दे दिया गया था। कक्षा पांचवी और आठवीं की परीक्षा बोर्ड होने पर छात्र छात्राओं को प्रमोट नहीं किया जाएगा फेल होने वाले विद्यार्थियों को आगे की कक्षा में प्रमोट नहीं किया जाने की तैयारी की जा रही है। 13 साल बाद फिर शुरू हो गया 5वी-8वीं बोर्ड परीक्षा।

JOIN WHATSAPP GROUPCLICK HERE
JOIN TELEGRAM GROUPCLICK HERE
PHYSICSHINDI HOMECLICK HERE