12th Biology IMP Question

कक्षा 12 जीवविज्ञान पाठ 2 पुष्पीय पादपों में लैंगिक जनन

 कक्षा 12 जीव विज्ञान पाठ 2 पुष्पी पादपों में लैंगिक जनन

Key points

Join

✔️पुष्पी पादपों में मुख्य पौधा द्विगुणित बीजाणुद्भुद पीढ़ी का प्रतिनिधित्व करता है। इस में लैंगिक जनन पुष्प द्वारा होता है। पुष्प एक रूपांतरित प्ररोह है।

✔️ पुष्प के मुख्य भाग वाह्य दलपुंज, दलपुंज, पुमंग तथा जायांग होते हैं जो पुष्पासन पर व्यवस्थित होते हैं। पुमांग की इकाई को पुंकेसर छता जायांग की इकाई को अंडप कहते हैं। यह पुष्पा के क्रमस नर व मादा जनन भाग है।

Join

✔️ पंकेसर के परागकोष में लघुबीजाणुधानी होती है। लघुबीजाणुधानी में परागकण लघुबीजाणुजनन द्वारा बनते हैं। लघुबीजाणुधानी 4 परतों से आव्रत होती हैं- बाह्य त्वचा, अंतस्थितिसियम, मध्य पर्त तथा टेपिटम। टेपीटम एक पोषक स्तर की भांति कार्य करती है। यह परागकणों का पोषण करती है।

✔️ परागकण या लघु बीजाणु नरयुग्मकोदभिद
की प्रथम कोशिका है। यह 2 पदों से घिरे रहते हैं- स्पोरोपोलेनिन से अवतरित दृढ़ बाह्य चोल तथा पेक्टिन एवं सैलूलोज से बनी पतली परत अंत चोल । वाह्य चोल पर 3 जनन छिद्र पाए जाते हैं। इन्हीं छिद्रों से पराग नलिका निकलती है।

✔️ प्राकृत पोषक पदार्थों से भरपूर होते हैं,इनका उपयोग पराग टेबलेट तथा सीरप के रूप में पूरक आहार बनाने में किया जाता है।

✔️ अंडप के तीन भाग होते हैं- अंडासय वर्तिका तथा वर्तिकाग्र। वर्तिकाग्र परागकण के समय पराग कणों को ग्रहण करती है। अंडाशय में बीजांड बीजांडआसन पर लगे होते हैं।

✔️ बीजांड माइक्रोपाइल को छोड़कर चारों ओर से प्रायः दोहरे अध्यावरण से घिरा रहता है। बीजांडकाय की एक कोशिका वृद्धि करके गुरुबीजाणु मात्र कोशिका बनाती है। यह अर्धसूत्री विभाजन द्वारा विभाजित होकर चार गुरुबीजाणु बनाती है, इनमें से तीन नष्ट हो जाते हैं। सक्रिय गुरुबीजाणु 8 केंद्रकीय तथा 7 कोशिकीय भ्रूणकोष बनाता है।

✔️ भ्रूण कोष में एक अंडकोशिका, 2 सहायक कोशिकाएं, 3 एंटीपोडल कोशिकाएं तथा दो द्रव्य केंद्रक होते हैं।

✔️ परागकोष से परागकणों के वर्तिकाग्र पर पहुंचने की क्रिया परागण कहलाती है। परागण दो प्रकार से होता है- स्वपरागण समान जीन संरचना वाले पौधों की पुष्पों में तथा पर परागण भिन्न जीन संरचना वाले एक ही प्रजाति के पौधों के पुष्पों में होता है।

✔️ अनुन्मील्य पुष्प वह पुष्प है जो कभी नहीं खिलते। इनमें सदैव स्वपरागण पाया जाता है।

✔️ पर परागण कीटों द्वारा ,वायु द्वारा ,जल द्वारा, जंतु द्वारा अथवा कृत्रिम विधि से होता है ।प्रकृति पर परागण को प्रेरित करती है।

✔️ पर परागण को सफल बनाने के लिए पौधों में विभिन्न युक्तियां पाई जाती हैं जैसे एकलिंगता, स्वाबंध्यता, भिन्नकालपकवत्ता, आदि। इन्हें वाह्य प्रजनन युक्तियां भी कहा जाता है।

✔️ परागकण अंडप पारस्परिक क्रियाएं इसमें परागकण के वर्तिकाग्र पर पहुंचने से लेकर इससे निकली पराग नलिका के बीजांड में प्रवेश तक की घटनाएं शामिल है। P परागकण व वर्तिकाग्र दोनों में ही सही प्रकार के पहचान की क्षमता होती है।

✔️ पराग नलिका वर्तिका से होती हुई अंडाशय मैं स्थित बीजांड में प्रवेश करती है । पराग नलिका बीजांड में, बीजांडद्वार से निभाग से प्रवेश करती है।

✔️ संकरण मैं कृत्रिम परागण का प्रयोग कर फसलों की उन्नत किस्में उत्पन्न की जाती हैं।

✔️ दोहरा निषेचन के अंतर्गत युग्मक संलयन तथा त्रि संलयन क्रियाएं आती है।

✔️ बीज-निषेचन के पश्चात बीजांड से बीज बन जाता है तथा अंडाशय फल भित्ति में परिवर्तित हो जाता है। बीज के परिपक्व होने पर भ्रूण निष्क्रियता की स्थिति में आ जाता है इसे प्रसुप्ती कहते हैं।

✔️ फलावरण तथा बीज को सामूहिक रूप से फल कहते हैं। उत्पत्ति के आधार पर फल दो प्रकार के होते हैं -कूट फल तथा सत्य फल। अंडाशय से विकसित फल ,सत्य फल तथा पुष्प के किसी अन्य भाग से विकसित फल कूट फल या आभासी फल कहलाते हैं।

✔️ बिना निषेचन के अंडाशय से विकसित होने वाले बीज रहित फल अनिषेकजनितफल कहलाते हैं जैसे केला ,अंगूर।

✔️असंगजनन- बिना निषेचन के बीच बनने की प्रक्रिया असंग जनन कहलाती है ।इसमें लैंगिक जनन को प्रतिस्थापित कर दिया गया है जैसे कुछ गांवों तथा सूरजमुखी कुल के पौधों में।

✔️ बहुभ्रूणता – एक बीच में एक से अधिक विरोध कर पाए जाने को बहुभ्रूणता कहते हैं। जैसे- नींबू, पाइनस।

 

For English medium students

 

Class 12 Biology Lesson 2 Sexual reproduction in flowering plants

 

              Key points

The main plant in florida plants represents diploid spore generation.  In this, sexual reproduction is done through flowers.  The flower is a transformed shoot.

The main parts of the flower are external dalunj, dalunj, pumang and jayang which are arranged on the flower.  The unit of the Pumang is called the unit of the stamens Chhata Jayang.  It is the male and female reproductive part of Pushpa.

✔️ There is microbiculation in the anthers of the pancreas.  In microfibrillation, pollinators are formed by microtubule.  Microfibrils are covered by 4 layers – the outer skin, the interstitium, the middle layer, and the tapetum.  Tapitum acts like a nutrient level.  It nourishes pollinators.

✔️ pollen or small-spore anthropomorphism
Is the first cell of  It is surrounded by 2 positions – a hardened outer chola derived from sporopollenin and a thin layer end cholla made of pectin and cellulose.  3 genital pores are found on the external chola.  From these holes, the pollen tube comes out.

✔️ Prakrit are rich in nutrients, they are used to make a dietary supplement in the form of pollen tablets and syrup.

✔️ Eggs have three parts – Andasya style and style.  At the time of stellar pollination, pollen ingests particles.  The ovules are attached to the ovules in the ovary.

✔️ The ovule is usually surrounded by double arches all around except the micropyle.  A cell of the ovule grows by making the genus the only cell.  It is divided by meiosis to form four Gurbijanu, three of which are destroyed.  The active myocardium forms 8 nuclei and 7 cellular embryos.

✔️ Embryonic corpus consists of one scrotum, 2 helper cells, 3 antipodal cells and two fluid nuclei.

क्रिया The action of pollen reaching the stigma is called pollination.  Pollination occurs in two ways – self-pollination occurs in the flowers of plants with the same gene structure, and pollination occurs in the flowers of the same species of plants with different gene structures.

✔️ Perpetual flower is a flower that never blossoms.  Self-pollination is always found in them.

पर Pollination is done by insects, by air, by water, by animals or by artificial means. Nature induces pollination.

✔️ In order to make pollination successful, various tips are found in plants such as monotony, swabability, variability, etc.  They are also called external reproductive devices.

✔️ Pollination Androp Interaction This includes events ranging from pollen pollen reaching the stigma to pollen tubule entering the ovule.  P Both pollen and stigma have the right type of identification capability.

✔️ The pollen tube enters the ovule located in the ovary passing through the style.  The pollen pipe enters the bypass, from the Byzandwar to the division.

Improved varieties of crops are produced using artificial pollination in hybridization.

✔️ Dual fertilization involves gametes fusion and tri fusion operations.

✔️ After seed-fertilization, seed is formed from the ovule and ovary gets converted into fruit wall.  When the seed matures, the fetus enters a state of dormancy, this is called maternity.

✔️ Fruit and seeds are collectively called fruits.  There are two types of fruits depending on the origin – pseudo fruit and true fruit.  The fruit developed from the ovary, the true fruit and the fruit developed from any other part of the flower are called pseudo fruit or virtual fruit.
Seedless fruits that grow from the ovaries without fertilization are called nonsteroidal fruits such as bananas, grapes.

✔️ Disorganization – The process of formation between fertilization without fertilization is called asexual reproduction. In this, sexual reproduction has been replaced like in some villages and plants of sunflower clan.

✔️ Multipleness: Having multiple opposites in the middle is called multiplicity.  Like- Lemon, Pineas.

You may also like

1 Comment

  1. Biology ke notes pdf
    dalen

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *